ब्रेस्टफीडिंग के दौरान होने वाली समस्याएं

Read in English
what are the breastfeeding problems

Photo Credit: momcuddle.com

ब्रेस्टफीडिंग एक ऐसे तरीका होता है जिससे बच्चे को फीड कराया जाता है, लेकिन यह इतना आसान नहीं होता है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कई महिलाओं को ब्रेस्टफीडिंग कराते वक्त दूध के मिल्क लिकेज की परेशानी होती है जो उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है और साथ ही बच्चे के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। कुछ महिलाओं को पहले सप्ताह के बाद अगर ब्रेस्टफीडिंग के दौरान दर्द भी महसूस होती है। तो आइए जानते हैं ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं को किन-किन समस्याओं का सामना करना पड़ता है। [ये भी पढ़ें: जानिए गर्भावस्था के दौरान होने वाली असहजता से कैसे बचें]

फटे और रुखे निप्पल्स: ब्रेस्टफीडिंग के दौरान बहुत सी महिलाओं के निप्पल्स रूखे हो जाते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस दौरान महिलाओं के शरीर में कई हार्मोनल बदलाव आते है। स्तनपान के पहले सप्ताह के दौरान आपके स्तनों से रक्त का स्राव हो सकता है, क्योंकि इस समय बच्चा सिर्फ दूध पीना सीख रहा होता है और हल्का सा ब्लड बच्चे के लिए हानिकारक नहीं होता है।

दूध का ज्यादा निकलना: कई ऐसी महिलाएं होती हैं जिनके स्तन के बहुत ज्यादा दूध निकलता है, जिसकी वजह से बच्चे को भी कई समस्या हो सकती है। जब अधिक दूध आने लगता है तो कई बार दूध बच्चे के नाक में भी जाने का खतरा हो जाता है, जिसके कारण बच्चे को असहजता हो सकती है। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान एक्सरसाइज करते वक्त रखें इन बातों का ध्यान]

स्तनों में दर्द होना: जब भी बच्चा दूध पीता है तो मसल्स सेल्स उत्तेजित होते है जिसके कारण महिलाओं को स्तनों में दर्द का सामना करना पड़ता है। शरीर में आ रहे हार्मोनल बदलाव के कारण भी दूध पिलाते वक्त स्तनों में दर्द होता है। जिन महिलाओं के स्तन से अधिक दूध आता है, उन्हें भी दर्द महसूस होती है।

ब्रेस्टमिल्क में टॉक्सिंस: प्रेग्नेंसी के दौरान जब महिलाएं तला-भूना या स्ट्रीट फूड का सेवन करती है तो उसके कारण स्तनों में हो रहे दूध में बैक्टीरिया और किटाणु आ जाते हैं, जो बच्चे के स्वास्थ्य के लिए घातक हो सकता है। इन सारे खाद्य पदार्थ के कारण ब्रेस्ट मिल्क में टॉक्सिंस जमा हो जाते हैं। [ये भी पढ़ें: किन प्रमुख कारणों से हो सकता है गर्भपात]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "