ये टिप्स आपको गर्भावस्था के दौरान होने वाले थकान से दिलाएंगें राहत

Tips to reduce fatigue during pregnancy

गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाओं को थकावट महसूस होती है। ऐसा पहली तिमाही के समय ज्यादा महसूस होता है, क्योंकि महिलाओं के शरीर में बहुत से बदलाव आते हैं। तीसरी तिमाही में भी ऐसा होता है, क्योंकि इस दौरान बच्चा पूरी तरह विकसित हो चुका होता है और एक महिला के शरीर पर उसका पूरा भार आ जाता है। दैनिक दिनचर्या और पोषक आहार का सेवन करके इस समस्या से निजात पाया जा सकता है। शरीर में हार्मोनल बदलाव आने के कारण भी गर्भवती महिलाओं को अधिक थकान महसूस होती है। आइए कुछ टिप्स के बारे में जानते हैं जिनकी मदद से गर्भावस्था के दौरान होने वाले थकान से राहत पा सकते हैं। [ये भी पढ़ें: ट्विन प्रेग्नेंसी में अपने वजन को कैसे मेंटेन करें]

अत्यधिक पानी पिएं:
Tips to reduce fatigue during pregnancyप्रेग्नेंसी के दौरान पानी पीना आवश्यक होता है। यह शरीर को हाइड्रेटेड रखने में मदद करता है। इसके अलावा यह शरीर के मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है जो थकावट के लक्षणों को कम करता है और शरीर को तरोताजा महसूस कराता है। पानी के साथ-साथ पौष्टिक जूस पीना भी फायदेमंद हो सकता है और शरीर को कई परेशानियों से दूर रख सकता है।

प्रीनेटल विटामिन्स लें:
गर्भवती महिलाओं में पोषण संबंधी कई जरूरतें होती हैं और यदि आपको उचित पोषण नहीं मिलता है तो आपको थकान महसूस होने लगती है। गर्भावस्था के दौरान शरीर को पोषण प्रदान करने के लिए प्रीनेटल विटामिन की जरूरत होती है जो थकावट दूर करने में मदद करता है। विटामिन बी 12 वाले प्रीपेन्टल का सेवन करना फायदेमंद होता है, जो थकान को दूर करने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: हर गर्भवती महिला को करनी चाहिए सांसों से जुड़े ये एक्सरसाइज]

पोषक तत्व का सेवन करें:
Tips to reduce fatigue during pregnancyगर्भावस्था के दौरान प्रोटीन, फाइबर और आयरन आपके शरीर(और पेट) में थकान के लक्षणों को कम करने में मदद करता है। पत्तेदार सब्जियां और फलों का सेवन करने की कोशिश करें क्योंकि उनमें पाए जाने वाले पोषक तत्व थकान के लक्षणों को कम करता है और साथ ही शरीर में ऊर्जा प्रदान करता है।

मसाज या वॉर्म बाथ लें:
प्रेग्नेंसी के दौरान अत्यधिक थकान महसूस होती है, इसलिए शरीर को मसाज देना फायदेमंद हो सकता है। वॉर्म बाथ लेने से भी शरीर में होने वाली थकावट दूर हो सकती है। मसाज लेने से शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव होता है जिससे आराम महसूस होता है और थकान कम हो जाती है। [ये भी पढ़ें: किन प्रमुख कारणों से हो सकता है गर्भपात]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "