Healthy Pregnancy: गर्भवती महिलाएं मानसून में अपना ख्याल कैसे रखें

Tips For Pregnant Women During Monsoon

मानसून के दौरान गर्भवती महिलाएं अपना और अपने होने वाले शिशु का ख्याल रखें।

Healthy Pregnancy: मानसून के मौसम में गिरती बूंदे, गरजते बादल, कागज की नाव, और रेनकोट्स हर किसी के मन को लुभाते हैं। यह मौसम जहां आपको अच्छी और नई यादें बनाने का मौका देता है वहीं पकवान खाने की आपकी ईच्छा को भी बढ़ा देता है। हालांकि ये पकवान आपके स्वास्थ्य के लिए मुश्किल भी खड़ी कर देते हैं और आपको बीमार करते हैं। इस मौसम में संक्रमण होने की संभावनाएं अधिक होती है इसलिए आपको अधिक देखभाल की जरुरत होती है। अगर आप गर्भवती हैं तो आपको बाकी लोगों से ज्यादा सावधानी बरतनी होती है। मानसून के दौरान गर्भवती महिलाएं अपना और अपने होने वाले शिशु का ख्याल कैसे रखें, आइए जानते हैं। [ये भी पढ़ें: मानसून में कौन से स्वास्थ्यवर्धक खाद्य पदार्थों का सेवन करें]

Healthy Pregnancy: मानसून के दौरान गर्भवती महिलाओं के लिए हेल्थ टिप्स

  • हाइड्रेटेड रहें
  • बाहर का खाना ना खाएं
  • सही कपड़े पहनें
  • पर्सनल हाइजीन का ध्यान रखें
  • कच्चे खाद्य पदार्थ या सब्जियां ना खाएं

हाइड्रेटेड रहें

Tips for a Happy Pregnancy during Monsoon
मानसून के दौरान गर्भवती महिलाएं दिन में दो से ढ़ाई लीटर पानी पिएं।

मानसून के दौरान भी आपको डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। इसलिए हाइड्रेटेड रहने के लिए दिन में दो से ढ़ाई लीटर पानी पिएं और स्वस्थ जूस या फलों के रस का सेवन करें। इससे आप सिर दर्द, मितली, थकान आदि से भी बची रहेंगी।

बाहर का खाना ना खाएं

Tips To Stay Healthy in Rainy Season for Moms-to-Be
बाहर के खाने से परहेज करें।

प्रेग्नेंसी के दौरान क्रेविंग्स होना आम बात है और खासतौर पर मानसून के मौसम में आपको बाहर की चीजें जैसे गोल-गप्पे या मसालेदार भोजन खाने का मन होता है। गर्भावस्था के दौरान मानसून में बाहर का खाना खाने से बचें। इससे आप जर्म्स के संपर्क में आ सकती हैं। [ये भी पढ़ें: मानसून के दौरान बाहर खाना खाते समय कौन सी बातों का ख्याल रखें]

सही कपड़े पहनें
मानसून के दौरान अत्यधिक नमी और पसीना आने के कारण आपको असहजता महसूस होती है। इससे बचने के आप सही कपड़ें पहनें। मानसून के दौरान ढ़ीले और हल्के कपड़े पहनना सबसे अच्छा विकल्प है।

पर्सनल हाइजीन का ध्यान रखें
मानसून के दौरान हाइजीन का ख्याल रखना बेहद जरुरी है। इसलिए दिन में दो बार नहाएं। नहाने के पानी में नीम के पत्ते मिला लें। कुछ भी खाने से पहले हाथ धोएं।

कच्चे खाद्य पदार्थ या सब्जियां ना खाएं
कच्चे खाद्य पदार्थ या कच्ची सब्जियां खाने से बचें। खासतौर पर वो सब्जियां जिन्हें थोड़ी देर पहले काटकर रखा गया हो। इस समय पाचन धीमा हो जाता है इसलिए आपको इन्हें पचाने में मुश्किल होगी।

[जरुर पढ़ें: मानसून के दौरान इंफेक्शन से कैसे बचाव करें]

ये कुछ हेल्थ टिप्स हैं जो मानसून के दौरान गर्भवती महिलाओं को जरुर अपनाने चाहिए। इन टिप्स की मदद से आप अपनी और शिशु दोनों की देखभाल कर सकती हैं। मानसून में संतुलित आहार लेना भी जरुरी है।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "