नार्मल डिलिवरी के लिए काम आने वाले टिप्स

Read in English
tips for having normal delivery

बहुत सी महिलाओं को बच्चे बहुत पसंद होते हैं लेकिन जब बच्चे को जन्म देने की बात आती है तो बहुत अलग ही अनुभव होता है। लेबर पेन सहन करना सभी के बस में नहीं होता है। कई लोग इसके लिए सिजेरियन का सहारा लेते हैं। बच्चे को जन्म देने के लिए वेजाइनल डिलिवरी सबसे अच्छा तरीका है। यह मां और बच्चे दोनों के लिए सुरक्षित होता है। लेकिन क्या आपको पता है नार्मल डिलिवरी के लिए शरीर को कैसे तैयार किया जाता है। तो आइए आपको कुछ टिप्स बताते हैं जो आपके शरीर को नार्मल डिलिवरी के लिए तैयार करते हैं। [ये भी पढ़ें: गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल है कितना सुरक्षित]

शरीर को हिलाएं: प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर के हर अंग में दर्द होता है जिसकी वजह से आपको पूरे दिन सोने का मन करता है। लेकिन अगर आप चाहती हैं कि आप बच्चे को नार्मल डिलिवरी से जन्म दे तों जरुरी है कि आप शरीर को थोड़ा बहुत हिलाएं। इस दौरान एक्सरसाइज करना बहुत फायदेमंद होता है। टहलना, गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद एक्सरसाइज होती है। साथ ही स्वीमिंग करके भी शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है। इससे आपका शरीर नार्मल डिलिवरी के लिए तैयार होता है।

तनाव ना लें: प्रेग्नेंसी के दौरान तनाव होना सामान्य होता है। लेकिन अगर आप इस दौरान दिमाग को शांत रखते हैं तो इससे आपको आराम मिलता है। ज्यादा तनाव लेने की वजह से बच्चे को जन्म देने की प्रक्रिया सिजेरियन हो सकती है। इसलिए मेडिटेशन करें, इससे सहज महसूस होता है। [ये भी पढ़ें: लेबर पेन के दौरान मदद करने के लिए पिता जानें कुछ जरूरी बातें]

सही तरह से सांस लें: ब्रीदिंग को प्रेग्रेंसी के दौरान ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं लोग। लेकिन यह लेबर प्रक्रिया को आसान बनाने में मदद करती है। नार्मल प्रेग्रेंसी के लिए आप ब्रीदिंग तकनीक का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए सीने, पेट से और गहरी सांस लेने की कोशिश करें।

सही आहार का सेवन करें: प्रेग्रेंसी के दौरान आप जो भी खाते हैं उसका बच्चे के जन्म पर असर पड़ता है। अगर मां स्वस्थ रहती है तो बच्चा भी स्वस्थ रहता है। एक सही डाइट बच्चे का जन्म नार्मल डिलिवरी से हो सकता है। स्वस्थ आहार में , सब्जियां, प्रोटीन,फल, डेयरी प्रोडक्ट, आयरन युक्त चीजें होनी चाहिए।

ज्यादा वजन ना बढ़ने दें: प्रेग्रेंसी के दौरान वजन बढ़ता ही है। लेकिन ज्यादा वजन बढ़ जाने से लेबर के समय परेशानी होती है। जिसकी वजह से सिजेरियन डिलिवरी होती है। ज्यादा वजन बढ़ जाने से बच्चे को मॉनिटर करना मुश्किल हो जाता है। जिसकी वजह से नार्मल डिलिवरी करने में दिक्कत होती है। [ये भी पढ़ें: टिप्स जिनकी मदद से आप गर्भावस्था के दौरान अच्छे दिख सकते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "