गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल है कितना सुरक्षित

Read in English
Is it safe to use essential oil during pregnancy

एसेंशियल ऑयल पौधों, हर्ब्स और अन्य तत्वों से निकाले गए हाइली कंसन्ट्रेटेड तत्व होते हैं जो कि काफी शक्तिशाली होते हैं। इनका इस्तेमाल लंबे समय से कॉस्मेटिक्स, सौंदर्य प्रसाधनों और आध्यात्मिक गुणों के लिए किया जाता रहा है। इनका उपयोग मूल रुप से शरीर के किसी हिस्से पर लगाकर, मालिश करके इन्हेल करके और भोजन आदि में किया जाता है। सवाल ये है कि क्या गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाएं एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल भोजन में या मालिश के लिए कर सकती हैं? यह जानना इसलिए जरुरी है ताकि आप गर्भावस्था के दौरान अपनी सुरक्षा को सुनिश्चित कर सकें। आइए जानते हैं गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल कितना सुरक्षित है। [ये भी पढ़ें: लेबर पेन के दौरान मदद करने के लिए पिता जानें कुछ जरूरी बातें]

गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल
गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल का उपयोग करना आपको आराम प्रदान कर सकता है लेकिन यह जानना भी जरुरी है कि अगर हम इन तेलों के इस्तेमाल की बात कर रहे हैं तो इसके पीछे क्या कारण हैं। सबसे पहले यह महत्वपूर्ण है कि आप जिस तेल का उपयोग करें वह प्रामाणिक, शुद्ध और वास्तविक हो। एसेंशियल ऑयल में फिनोल और एल्डिहाइड होते हैं जो त्वचा पर रिएक्शन होने का कारण बन सकते हैं। एसेंशियल ऑयल का लंबे समय तक इस्तेमाल करने से सिर दर्द, चक्कर आना, मितली और सुस्ती जैसे दुष्प्रभाव हो सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल के अत्यधिक उपयोग से जलन हो सकती है। यह व्यक्ति की संवेदनशीलता के स्तर पर निर्भर करता है कि इससे क्या अन्य दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान किन एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं

गर्भावस्था के दौरान किन एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए

  • नटमैग एसेंशियल ऑयल
  • जैस्मीन एसेंशियल ऑयल
  • रोज़ एसेंशियल ऑयल
  • पीपरमिंट एसेंशियल ऑयल
  • बेसिल एसेंशियल ऑयल
  • रोजमैरी एसेंशियल ऑयल
  • कमिन एसेंशियल ऑयल
  • सिनेमन एसेंशियल ऑयल
  • जिंजर एसेंशियल ऑयल

सावधानी बरतें: गर्भावस्था के दौरान एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल करते वक्त इन बातों का ध्यान अवश्य रखें:

  • किसी विश्वासपात्र विक्रेता से उच्च गुणवत्ता वाले एसेंशियल ऑयल का उपयोग ही करें।
  • मालिश करते वक्त एसेंशियल ऑयल में किसी सामान्य तेल को मिलाकर इन्हें पतला कर लें।
  • कई महिलाओं को एसेंशियल ऑयल के इस्तेमाल से राहत मिलती है, लेकिन इससे पहले कि आप इनका प्रयोग शुरू करें, अपने चिकित्सक से इस बारे में बात कर लें।
  • एसेंशियल ऑयल के दुष्प्रभावों से बचने के लिए एक बार में केवल एक बूंद ऑयल का उपयोग ही करें।
  • कुछ दिनों या कुछ हफ्तों के अंदर तेल बदलती रहें। [ये भी पढ़ें: जानिए गर्भ में हिचकी क्यों लेता है बच्चा]
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "