Migraine during Pregnancy: प्रेग्नेंसी के दौरान माइग्रेन का कैसे इलाज करें

Managing Migraine During Pregnancy

Migraine during Pregnancy: माइग्रेन से कैसे राहत पाएं

Migraine during Pregnancy: गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं होती हैं और उनमें से एक माइग्रेन है। इस समस्या से निजात पाना आवश्यक है वरना यह आपके प्रेग्नेंसी को प्रभावित कर सकते हैं। माइग्रेन के कारण होने वाला दर्द असहनीय होता है, इसलिए गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए यह खातक साबित हो सकता है। ऐसे में उन्हें जल्द से जल्द इस समस्या से निजात पाने का तरीके ढूंढ लेना चाहिए। माइग्रेन का दर्द होने पर इसे अनदेखा करने के बजाय अपने डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए ताकि आपका गर्भावस्था का फेस आपके लिए दर्दनाक ना हो। इसके अलावा कुछ आसान टिप्स का पालन कर के भी इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। [ये भी पढ़ें: गर्भावस्था के दौरान एक्सरसाइज करने के फायदे]

Migraine during Pregnancy: टिप्स जिनकी मदद से गर्भावस्था के दौरान माइग्रेन से राहत पाया जा सकता है

  • आराम करें और नैप लें
  • कोल्ड कम्प्रेस
  • हाईड्रेटेड रहें
  • स्वस्थ आहार का सेवन करें
  • लाइफस्टाइल में बदलाव लाएं

आराम करें और नैप लें:

Sleep during pregnancy is good for migrain pain
Migraine during Pregnancy: माइग्रेन से राहत पाने के लिए नैप लें

प्रेग्नेंसी के दौरान माइग्रेन से राहत पाने के लिए आराम करना बेहतर जरूरी होता है और इसके साथ हर थोड़ी देर में पावर नैप भी आवश्यक होता है। ऐसा करना ना सिर्फ माइग्रेन कम करता है बल्कि स्वस्थ भी रखता है।

कोल्ड कम्प्रेस:
कोल्ड कम्प्रेस माइग्रेन से राहत पाने का सबसे आसान तरीका होता है। गर्दन और माथे पर कोल्ड कम्प्रेस करने से दर्द से तुरंत राहत मिलती है।

हाईड्रेटेड रहें:
प्रेग्नेंसी के दौरान हाईड्रेटेड रहना बहुत जरूरी होता है। एक गर्भवती महिला को कम से कम 10-12 गिलास पानी पीना चाहिए ताकि वो खुद को फिट और हाईड्रेटेड रख सकें। पानी माइग्रेन के कारण होने वाले दर्द से राहत प्रदान करता है।

स्वस्थ आहार का सेवन करें:
स्वस्थ और पोषक तत्व जैसे- विटामिन, मिनरल्स, अमीनो एसिड युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करना ना सिर्फ माइग्रेन के कारण होने वाले दर्द से राहत प्रदान करता है बल्कि स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है।

लाइफस्टाइल में बदलाव लाएं:
लाइफस्टाइल में बदलाव लाकर भी आप माइग्रेन के दर्द से राहत पा सकते हैं। इसके लिए आप एक्सरसाइज या योगा का नियमित अभ्यास कर सकती हैं। ये आपके शरीर और मांसपेशियों को राहत प्रदान करते हैं।

[जरूर पढ़ें: जानिए गर्भ में हिचकी क्यों लेता है बच्चा]

प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले माइग्रेन से राहत पाने के लिए आपको कुछ आसान टिप्स का पालन करने की जरूरत है।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "