सवाल जो अक्सर गर्भवती महिलाओं के मन में होते हैं

common question often come in pregnant lady mind

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अपने स्वास्थ्य का ज्यादा ध्यान रखने की जरुरत होती हैं क्योंकि गर्भवती महिला का स्वास्थ्य उसके शिशु से जुड़ा हुआ होता है। इस दौरान कुछ भी खाने या करने से पहले उससे होने वाले प्रभाव के बारे में जान लेना जरुरी होता है। स्वास्थ्य पर किसी भी चीज के प्रभाव के बारे में जानने के लिए डॉक्टर से परामर्श लेना सबसे सुरक्षित विकल्प होता है। इन सब बातों के साथ गर्भवती महिला के मन में कुछ और सवाल भी चलते रहते हैं, जिसके कारण चिंता और डर की भावनाएं महसूस होती हैं। जो कभी-कभी बच्चे के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकते हैं। तो आइए आपको कुछ सवालों के बारे में बताते हैं जो अक्सर गर्भवती महिलाओं के मन में चलते रहते हैं। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान यौन संबंध बनाते समय ब्लीडिंग क्यों होती है]

सवाल 1: लोगों को कब बताया जाए कि आप गर्भवती हैं: गर्भपात होने की संभावना प्रेग्नेंसी के 12वें सप्ताह तक रहती है। इसलिए महिलाएं किसी को अपनी प्रेग्नेंसी के बारे में बताने से डरती हैं क्योंकि अगर इस बीच उनका गर्भपात हो जाए तो उसके लिए असहज परिस्थिति पैदा हो जाती है। प्रेग्नेंसी के 12वें सप्ताह के बाद खतरा कम होने पर आप लोगों को अपने गर्भवती होने के बारे मे बता सकती हैं।

सवाल 2: कौन से खाद्य पदार्थ नहीं खाएं: गर्भवती महिलाओं को दिन में तीन बार पर्याप्त और पोषक आहार का सेवन करना चाहिए। जिसमें कच्चा या अधपका मीट, कच्चा दूध और पनीर, अधपके अंडें, बिना धोए फल और सब्जियां नहीं खानी चाहिए। साथ ही चाक, मिट्टी खाने जैसी गलत आदतों से भी दूर रहना चाहिए। [ये भी पढ़ें: गर्भवती महिलाओं को हॉट वॉटर बाथ क्यों नहीं लेनी चाहिए]

सवाल 3: गर्भावस्था के दौरान कॉफ़ी का सेवन सही है या नहीं: डॉक्टर का मानना है कि गर्भावस्था के दौरान कॉफी का सेवन करना सेहत के लिए हानिकारक होता है। क्योंकि इसमें कैफीन होता है, जो आपके ब्लड प्रेशर और दिल की धड़कन को बड़ा देता है, जिससे गर्भवती महिला के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है और गर्भनाल के द्वारा आपके शिशु के स्वास्थ्य को भी प्रभावित करती है।

सवाल 4: हॉट बाथ सुरक्षित है या नहीं: गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के पहली तिमाही में हॉट बाथ या सॉना से दूर रहना चाहिए, क्योंकि अत्यधिक गर्मी से आपके शिशु की न्यूरल ट्यूब समस्या की सम्भावना बढ़ सकती है।

सवाल 5: एल्कोहल का सेवन करना चाहिए या नहीं: गर्भावस्था के दौरान एल्कोहल का सेवन करने से स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। एल्कोहल का सेवन करने से गर्भपात और शिशु के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान काम करना कब बंद करना चाहिए]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "