गर्भावस्था के दौरान घी का सेवन- अच्छा या बुरा?

Read in English
Advantages and disadvantages of consuming Ghee during pregnancy

गर्भावस्था के दौरान स्वस्थ और पोषक आहार महत्वपूर्ण होता है क्योंकि गर्भ में पल रहा शिशु आपके द्वारा लिए जा रहे आहार के जरिए ही पोषण प्राप्त करता है। मां जो खाती है उससे ही शिशु को प्रमुख पोषक तत्व मिलते हैं। गर्भावस्था के नौ महीनों के दौरान आपको नियमित आहार लेना जरुरी है। भारतीय खाद्य पदार्थों में घी एक सामान्य आहार है। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला द्वारा घी के सेवन को लेकर ऐसे कई सच और भ्रांतिया है। अधिकतर लोग गर्भावस्था के नौ महीनों के दौरान जन्म के बाद महिलाओं को घी का सेवन करने की सलाह देते हैं लेकिन हर सलाह के पीछे वैज्ञानिक कारण नहीं होता। इसलिए अपने गर्भावस्था आहार में घी को शामिल करने से पहले जान लें इसका सेवन कितना अच्छा और कितना बुरा है। [ये भी पढ़ें: बच्चों को रोगों से बचाने के लिए जरूर लगवाएं ये टीके]

घी में पाएं जाने वाले तत्व: भारतीय आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा घी विशुद्ध मक्खन होता है। इसमें ओमेगा 9 फैटी एसिड, ओमेगा 3 फैटी एसिड, विटामिन, खनिज, एंटी-ऑक्सीडेंट आदि शामिल हैं। हालांकि आमतौर पर किसी इंसान के लिए घी के सेवन के कई स्वास्थ्य लाभ हैं जैसे मेटाबोलिज्म बढ़ाता है, प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार लाता है और त्वचा को मॉइस्चराइज करता है। लेकिन गर्भावस्था के दौरान घी की सेवन फायदेमंद है या नहीं आगे जानें।

गर्भावस्था के दौरान घी के सेवन के नुकसान: गर्भावस्था के दौरान सीमित मात्रा में घी को सेवन करना ठीक है। यह आपके ज़रूरी अतिरिक्त ऊर्जा प्रदान कर सकता है लेकिन क्या वास्तव में घी का सेवन गर्भावस्था के लिए अच्छा है इस बात का कोई वैज्ञानिक दावा नहीं किया गया है। बल्कि गर्भावस्था के दौरान अधिक घी खाने से वजन और मोटापा बढ़ सकता है। मोटापा मां और आपके बच्चा दोनों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता। साथ ही गर्भावस्था में स्वाभाविक रूप से आपका शारीरिक व्यायाम कम हो जाता है और आपके शरीर में मेटाबोलिज्म की दर भी धीमा पड़ जाती है। इसलिए मोटापा कम करना भी मुश्किल होगा। अगर आप गर्भावस्था के बाद अपनी पहली ही शेप में आने का सोच रही है तो गर्भावस्था के दौरान अधिक घी का सेवन निश्चित रूप से एक बुरा विकल्प हो सकता है। [ये भी पढ़ें: बच्चों में सांस लेने की परेशानी के पीछे हो सकते है ये कारण]

गर्भावस्था के दौरान घी के सेवन के फायदें: हालांकि पोषण विशेषज्ञों का मानना है कि गर्भावस्था के दौरान घी का सेवन अच्छा नहीं है क्योंकि घी में सैचुरेटेड फैट होता है। गर्भावस्था के दौरान सैचुरेटेड फैट नियंत्रित मात्रा में लेने की सलाह दी जाती है। गर्भवती महिला निम्न फायदों के लिए अपने आहार मे घी को शामिल कर सकती हैं।

  • बच्चे के मस्तिष्क के विकास में मदद करता है।
  • बच्चे को पोषण देता है।
  • कब्ज से राहत दिलाने में मदद करता है।
  • पाचन क्रिया में सुधार लाता है।
  • एकाग्रता और याद्दाश्त को बढ़ाता है।

क्या आप घी का सेवन कर सकती हैं: गर्भावस्था के दौरान घी खाना भी आपके वजन पर निर्भर करता है। घी का सेवन तब ही करें जब आप अतिरिक्त वजन बढ़ाने में समर्थ हैं और इसके सेवन से आपके शरीर पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़े। साथ ही अगर आप घी खा रही हैं तो इसका सेवन संतुलन से करें। अगर आपका वजन अधिक है तो घी के सेवन से परहेज करें। [ये भी पढ़ें: क्या महिलाएं पीरियड्स के दौरान कर सकती है गर्भधारण]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "