आपका शिशु रात में क्यों नहीं सोता है

why baby is not sleeping at night

रात को बच्चे की नींद ना पूरी होने से वह दिनभर परेशान रहता है।

आमतौर पर शुरुआत में शिशु अधिक समय तक सोता है और कम समय के लिए जागता है। शिशु का स्लीपिंग पैटर्न शुरुआत के 6 महीने तक ऐसे ह रहता है। वह अपनी इच्छानुसार सोता है और इच्छानुसार ही जागता है। अगर आपका शिशु पूरी नींद नहीं ले पा रहा है और रात को बार-बार जाग जाता है तो यह आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है। जब शिशु रात में सो नहीं पाता है तो वह दिनभर चिड़चिड़ा रहता है और रोता रहता है। ऐसे में आपके लिए जरुरी है कि आप उन कारणों के बारे में जानें जिनकी वजह से आपका शिशु रात में सो नहीं पा रहा है। आइए जानते हैं इन कारणों को। [ये भी पढ़ें: नवजात शिशु की सुकून भरी नींद के लिए अपनाएं ये तरीके]

रात में शिशु के ना सोने के कारण

  • भूख
  • ज्यादा थकान
  • स्तनपान करना है
  • दांत निकलना
  • दर्द

भूख

why baby is not sleeping at night
अगर बच्चा भूखा होगा तो वह सो नहीं पाएगा।

शिशु के रात को सो ना पाने के पीछे सबसे सामान्य कारण भूख हो सकती है। शुरुआत में शिशु को थोड़े-थोड़े समय में फीड कराने की जरुरत होती है। चाहे आप उसे फॉर्मूला मिल्क दे रही हैं या स्तनपान करा रही हैं, हर चार घंटे में बच्चे को फीड कराएं। ऐसा ना होने पर बच्चे को रात में भूख लग सकती है जिसके कारण वह सो नहीं पाता।

ज्यादा थकान
बच्चा दिनभर अलग-अलग तरह की गतिविधियां करता रहता है जिससे उसे पर्याप्त नींद की आवश्यकता होती है। शिशु को रात को 11 घंटे की नींद चाहिए होती है। अगर उसे यह नींद नहीं मिल पाती है या वह थक जाता है और रात में सो नहीं पाता।

स्तनपान करना है
आमतौर पर शिशु के दूध की बोतल, मां के स्तन या अन्य किसी चीज को चूसने की इच्छा होती है जिससे उसे सोने में मदद मिलती है। अगर आपका शिशु रात में सो नहीं पा रहा है तो इसका एक कारण ये भी हो सकती है कि वह स्तनपान या बोतल का इस्तेमाल करना चाहता है।

दांत निकलना
दांत निकलने का समय शिशु के लिए काफी परेशानी वाला समय होता है। रात के समय ये परेशानी और बढ़ जाती है। ऐसे में शिशु को असहजता, दांत में दर्द या जबड़े में दुखन के कारण नींद नहीं आती है। अगर आपका शिशु दिन में सामान्य रहता है तो भी वह रात में परेशान हो सकता है।

दर्द

why baby is not sleeping at night
किसी भी तरह का दर्द शिशु की नींद को प्रभावित कर सकता है।

शिशु हर छोटी चीज को लेकर संवेदनशील होते हैं। पेट में दर्द, एसिड रिफलक्स, सर्दी, खांसी, और अन्य किसी भी तरह के दर्द के कारण बच्चे को असुविधा हो सकती हैं जिससे वह रात में सो नहीं पाता है। अगर आपको लग रहा है कि शिशु बीमार है तो उसे डॉक्टर को दिखाएं। शिशु खुद से आपको नहीं बता सकता कि उसे क्या परेशानी है। इसलिए आपको स्वयं समझने की जरुरत होती है। [ये भई पढ़ें: बच्चों को बेहतर नींद दिलाने में मददगार खाद्य पदार्थ]

शिशु के रात में सो ना पाने के पीछे ये कुछ कारण हो सकते हैं। इस आर्टिकल को इंग्लिश में पढ़ने के लिए क्लिक करें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "