नवजात शिशु के साबुन में पीएच संतुलित होना क्यों है जरुरी

Read in English
why ph balance in baby soaps is necessary

बच्चों की त्वचा बहुत ही कोमल होती है। उनके लिए साधारण साबुन या बॉडी वॉश का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, खासकर 1 साल तक के बच्चे के लिए। बच्चे के जन्म होने के एक साल तक उसे रैशेज, शुष्क त्वचा और डायपर रैशेज होने की संभावना होती है। जिनमे से कुछ के कारण पता ही नहीं चल पाते हैं। त्वचा संबंधी समस्या त्वचा के पीएच लेवल के असंतुलित होने के कारण होती हैं। तो आइए आपको बताते हैं साबुन में पीएच लेवल संतुलित होना क्यों जरुरी है। [ये भी पढ़ें: बच्चे के आंख मलने के पीछे क्या कारण होते हैं]

त्वचा का पीएच लेवल नहीं होता है मगर पसीने और वसामय ग्रंथियां त्वचा को एसिडिक पीएच प्रदान करती हैं। पसीना और सीबम त्वचा पर फैटी एसिड ब्रेकडाउन कर देते हैं जो अच्छे बैक्टीरिया के बने होते हैं।

बच्चे की त्वचा के लिए पीएच लेवल 5.5 होता है। यह थोड़ा सा बदल जाने की वजह से त्वचा के काम करने पर फर्क पड़ता है। प्रोटीज एससीसीई एंजाइम पुरानी त्वचा को हटाकर नई त्वचा लाने में मदद करता है।यह एंजाइम पीएच संवेदनशील होता है जिसकी वजह से त्वचा पतली हो सकती है अगर पीएच का लेवल बढ़ जाए। अगर पीएच लेवल 5.5 से 7.5 हो जाए तो त्वचा 50 प्रतिशत तक पतली हो सकती है। [ये भी पढ़ें: जानिए बच्चे के लिए किस पोजीशन में सोना सुरक्षित होता है]

त्वचा के अत्यधिक पतला होने की वजह से यह कमजोर होती जाती है और कई एलर्जी होने का खतरा रहता है। इसी की वजह से बच्चे को एक्जिमा की समस्या होने लगती है।

इन समस्याओं से बचने के लिए बच्चे के लिए सही पीएच लेवल के साबुन और मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। कई बेबी प्रोडक्ट में क्लिंजर का इस्तेमाल किया जाता है जो बच्चे की त्वचा के पीएच लेवल को प्रभावित करता है। इसके साथ ही कई साबुन में पीएच लेवल 7 के लगभग होता है। तो इनका इस्तेमाल करने से बचें क्योंकि यह केमिकल त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। त्वचा से कीटाणु हटाने के लिए बच्चों को मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल जरुर करें। [ये भी पढ़ें: नवजात शिशु से जुड़ी कुछ जानने योग्य बातें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "