चीजें जो हाल ही में बने माता-पिता शिशु के साथ गलत करते हैं

what are the things new parents do wrong with baby

हाल ही में बने माता-पिता अक्सर अपने बच्चे के साथ अनजाने में ऐसी गलतियां कर देते हैं जिसकी वजह से बच्चे को असहजता महसूस होती है। बहुत सी ऐसी चीजें होती हैं जिनकी जानकारी उन्हें नहीं होती है। माता-पिता के जिंदगी का ये एक बहुत खुशनुमा पल होता है और वो इसके छोटे-छोटे पल का आनंद उठाना चाहते हैं। अपने बच्चे की हर छोटी-बड़ी बातों का ध्यान रखना उनके लिए एक चुनौती जैसा होता है। लेकिन इन सब के बावजूद आपको अपने बच्चे से जुड़ी हर बातों के बारे में जानना जरूरी होता है क्योंकि बच्चे बहुत ही नाजुक और कोमल होते हैं और एक छोटी सी भी भूल उनके स्वास्थ्य के लिए घातक हो सकते हैं और साथ ही इसकी वजह से उन्हें इंफेक्शन होने का भी खतरा हो सकता है। तो आइए जानते हैं चीजें जो हाल ही में बने माता-पिता अपने बच्चे के साथ गलत करते हैं। [ये भी पढ़ें: बच्चों को अनुशासित रहना कैसे सिखाएं]

पीठ के बल सुलाने को गलत समझना:
हमेशा बच्चे को पीठ के बल ही सुलाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपके बच्चे को सही मात्रा में ऑक्सीजन मिलता है। पीठ के बल सुलाने से आपके बच्चे के नींद में किसी प्रकार का कोई बाधा नहीं आएगा और वो सुकून की नींद ले पाएंगें। पेट के बल सुलाने से आपके बच्चे के पेट पर दबाव पड़ता है और इस वजह से उन्हें खाने का पचाने में परेशानी होती है।

उल्टी करना:
बच्चे को फिड कराने के बाद हमेशा डकार दिलवाना जरूरी होता है ताकि उनका खाना अच्छी तरह पच जाए। हाल ही में बनी मां को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि बच्चे को फिड कराने के बाद उन्हें डकार दिलवाना जरूरी होता है। अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो फिड कराने के बाद उन्हें उल्टी हो जाती है। [ये भी पढ़ें: बच्चे को कैसे ब्रश करवाएं और उसका सही समय क्या है]

रोने की वजह:
हाल ही में बनी मां को बच्चे के रोने के सही कारण का पता नहीं चल पाता है क्योंकि ऐसा उन्होंने पहले कभी अनुभव नहीं किया होता है। कई बार भूख लगने की वजह से बच्चे रोते हैं और कभी दर्द की वजह से। लेकिन आपको समझने की जरूरत है क्योंकि आपके बच्चे बोल नहीं सकते हैं।

ओरल डेंटल का ख्याल रखें:
हमेशा अपने बच्चे के दांतों और मुंह को साफ कपड़ें से साफ करना चाहिए। इससे उन्हें इंफेक्शन होने का खतरा नहीं रहता है। इसके अलावा हल्के गुनगुने पानी से भी आप अपने बच्चे के मुंह को साफ कर सकते हैं।

थर्मामिटर को मुंह में रखना:
ज्यादातर हाल ही में बने माता-पिता बुखार होने पर बच्चे के तापमान को नांपने के लिए थर्मामिटर को मुंह में डालते हैं, लेकिन ये गलत है क्योंकि ऐसा करने से बैक्टीरिया और कीटाणु बच्चे के मुंह के जरिए उनके शरीर में चला जाता है जो उनके स्वास्थ्स के लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए तापमान नांपने के लिए थर्मामिटर को आर्मपिट में लगाएं। [ये भी पढ़ें: शिशु के लिए हानिकारक हो सकती है आपकी कुछ गलतियां]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "