शिशु के बोतल के लिए हाइजीन टिप्स

Read in English
Safety and hygiene tips for baby's bottle

शिशु बहुत ही संवेदनशील होते हैं इसलिए उनका अधिक ख्याल रखना चाहिए। उन्हें इंफेक्शन होने का खतरा ज्यादा होता है। शिशु से जुड़ी हर छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना चाहिए, चाहे वो उनके खाने की कोई चीज हो या फिर उनका बोतल। शिशु को बोतल में दूध या पानी देने से पहले उनको अच्छी तरह साफ करना ना भूलें क्योंकि उनमें गंदगी, बैक्टीरिया और कीटाणु हो सकते हैं जो आपके शिशु के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं। अगर आप अपने शिशु के स्वास्थ्य के बारे में सतर्क नहीं रहेंगे तो उनको कई समस्याएं हो सकती हैं। आइए शिशु के बोतल के लिए हाइजीन टिप्स के बारे में जानते हैं। [ये भी पढ़ें: बच्चों को सोते वक्त कहानियां सुनाने के क्या लाभ होते हैं]

बोतल को गर्म पानी से धोएं:
शिशु को बोतल में दूध या पानी देने से पहले उसे गर्म पानी से अच्छी तरह धो लें। इससे उनमें होने वाले बैक्टीरिया और कीटाणु नष्ट हो जाते हैं और आपके शिशु के शरीर को भी नुकसान नहीं पहुंचा पाते हैं। बोतल के साथ नीप्पल को भी गर्म पानी से धो लें।

बोतल में ज्यादा देर दूध ना रखें:
ऐसा जरूरी नहीं है कि आपका शिशु बोतल को दूध को पूरी खत्म कर दें। ऐसे में आपको उस दूध को स्टोर कर के नहीं रखना चाहिए और ना ही बाद में उसी दूध को अपने शिशु को दें क्योंकि उनमें बैक्टीरिया का दमाव हो जाता है और साथ ही उससे दुर्गंध भी आने लगती है। [ये भी पढ़ें: नवजात शिशु के खिलौनों और सिप्पी कप का क्यों ध्यान रखना चाहिए]

बोतल को सुखाकर रखें:
गीले बोतल में आसानी से बैक्टीरिया और कीटाणु जमा हो सकते हैं। इसलिए जब भी आप बोतल को धोएं चाहे गर्म पानी से या ठंडे पानी से तो उसे सुखें और साफ कपड़ें से जरूर पोछ लें। इससे उसके अंदर किसी प्रकार की दुर्गंध भी नहीं आएगी।

बोतल को माइक्रोवेव में गर्म ना करें:
यदि आप बोतल गर्म करना चाहते हैं, तो बोतल गर्म कर लें या गर्म पानी के एक बर्तन में धोएं। माइक्रोवेव पोषक तत्वों को ब्रेकडाउन करते हैं।

बोतल के प्लास्टिक को चेक कर लें:
अगर आप अपने शिशु के लिए प्लास्टिक की बोतल खरीद रहे हैं तो उसके क्वालिटी को जरूर चेक कर लें और साथ ही ध्यान रहे कि नए बोतल में दूध या पानी देने से पहले उसे अच्छी तरह गर्म पानी से धो लें। [ये भी पढ़ें: शिशु की बॉडी लैंग्वेज से समझें कि वह क्या कह रहा है]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "