शिशु के शरीर की मालिश करने के लिए लाभकारी प्राकृतिक तेल

safe-and-best-natural-oil-for-baby-massage

शिशु के शरीर को स्वस्थ रखने के लिए भारतीय घरों में पुराने समय से ही मालिश करने की परंपरा रही है। मालिश करने से बच्चों के शरीर में रक्त संचरण तो बढ़ता ही है साथ ही उनकी त्वचा को भी पर्याप्त पोषण मिलता है। आजकल शिशु के शरीर की तेल मालिश के लिए बाजार में भी बहुत सारे तेल मिलते हैं लेकिन प्राकृतिक तेलों से शिशु के शरीर की मालिश करना ही फायदेमंद होता है। नारियल तेल, ऑलिव ऑयल आदि बहुत सारे तेल ऐसे होते हैं जिनसे शिशु की त्वचा को पर्याप्त मात्रा में पोषण मिलता है। आइए जानते है कि किन प्राकृतिक तेलों से शिशु के शरीर पर मालिश करना लाभकारी होता है। [ये भी पढ़ें: शिशु के बालों की देखभाल कैसे करें]

1. नारियल का तेल: बच्चे की त्वचा को रैशेज और रुखेपन से बचाने के लिए शिशु को नारियल तेल से मालिश करना बेहद लाभकारी होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो कि कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाते है। नारियल का तेल बच्चे की संवेदनशील त्वचा के लिए काफी लाभकारी होता है।

2.बादाम का तेल: बादाम का तेल विटामिन A, B1, B2, E और एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। इसलिए यह बच्चे की त्वचा और बालों को मुलायम और पोषित बनाने के लिए लाभकारी होता है। बच्चे के नाखूनों पर बादाम के तेल की मालिश करने से भी नाखून मजबूत होते हैं। [ये भी पढ़ें: शिशु को थोड़े समय के लिए डाइपर के बिना क्यों रहने देना चाहिए]

3.ऑलिव ऑयल: ऑलिव ऑयल कोशिकाओं के निर्माण में सहायक होता है। यह बच्चों को डाइपर पहनाने से होने वाले रैशेज और खुजली को कम करने में मदद करता है और त्वचा को मुलायम और पोषित बनाना है। ऑलिव ऑयल एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है और त्वचा की समस्या को खत्म करने के लिए बेहद लाभकारी होता है। इसलिए बच्चों के शरीर की मालिश करने लिए ऑलिव ऑयल एक बेहतर विकल्प होता है।

4. तिल का तेल: आयुर्वेद के अनुसार तिल का तेल बच्चों के शरीर की मालिश के लिए उपयोगी होता है। तिल के तेल में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं इसलिए यह शिशु की त्वचा को संक्रमण और सूजन से बचाता है। साथ ही त्वचा को पर्याप्त मात्रा में पोषण देता है इसलिए तिल का तेल शिशु की त्वचा के लिए लाभकारी होता है।

5. घी: घी बच्चों के शरीर की मालिश के लिए ही नहीं बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभकारी होता है। घी में पर्याप्त मात्रा में चिकनाई होती है इसलिए थोड़ा सा घी शिशु की त्वचा की मालिश के लिए काफी होता है। घर पर बने शुद्ध घी से शिशु के शरीर की मालिश करने से त्वचा मुलायम बनती है साथ ही इससे त्वचा की जलन भी शांत होती है। [ये भी पढ़ें: बच्चों को सोते वक्त कहानियां सुनाने के क्या लाभ होते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "