बच्चे को तेल मालिश करते समय ना करें कुछ गलतियां

mistakes-to-avoid-while-doing-oil-massage-to-baby

हर माता-पिता चाहते हैं कि उनका शिशु स्वस्थ रहे। आयुर्वेद के अनुसार माना जाता है कि शिशु के शरीर को स्वस्थ रखने के लिए तेल मालिश करना फायदेमंद होता है। शिशु की त्वचा बहुत नाजुक होती है ऐसे में उनके शरीर पर मालिश करते समय आपको कुछ सावधानियां बरतनी पड़ती हैं। मालिश करते समय की गई कुछ गलतियां शिशु के लिए हानिकारक हो सकती हैं। आइए जानते हैं कि शिशु के शरीर पर तेल मालिश करते समय आपको क्या कुछ सावधानियां रखनी चाहिए और किन गलतियों को करने से बचना चाहिए। [ये भी पढ़ें: शिशु के बालों की देखभाल कैसे करें]

1.सही समय पर मालिश करें: बच्चों के शरीर की मालिश का भी सही समय होता है। कुछ भी खिलाने से तुरंत पहले और बाद में बच्चों की तेल मालिश नहीं करनी चाहिए इससे उन्हें उल्टी हो सकती है। मालिश करने के कम से कम आधा घंटा बाद उन्हें दूध पिलाएं। बच्चे नहाने के बाद खुश होते हैं इसलिए नहलाने के बाद उनकी तेल मालिश करनी चाहिए।

2. ठंडे पानी से ना नहलाएं: गर्मी हो या सर्दी शिशु को हल्के गर्म पानी से ही नहलाएं। बच्चे को बहुत ठंडे पानी से नहीं नहलाना चाहिए। खासकर मालिश करने के बाद शरीर गर्म हो जाता है ऐसे में शिशु को हल्के गर्म पानी से ही नहलाना चाहिए अन्यथा उसे जुकाम हो सकता है। [ये भी पढ़ें: शिशु को थोड़े समय के लिए डाइपर के बिना क्यों रहने देना चाहिए]

3. सावधानी से करें मालिश: तेल मालिश करते समय सावधानी बरतनी चाहिए। बच्चे को तेल मालिश करते वक्त ध्यान रहे कि उनकी आंखों और नाक में तेल ना जाएं। साथ ही हल्के हाथ से मालिश करें ताकि शिशु के शरीर के अंगों पर अधिक दबाव ना पड़े।

4.तुरंत ना नहलाएं: अगर बच्चे की मालिश नहाने से पहले करते हैं तो मालिश के 15 मिनट बाद बच्चे को नहलाएं। ऐसा करना बच्चों के शरीर के लिए लाभकारी होता है क्योंकि उनकी त्वचा को पर्याप्त मॉइश्चर मिल पाता है। इसलिए तुरंत नहलाने की बजाय मालिश के 15 मिनट बाद बच्चे को नहलाएं।

5.सही वातावरण में करें मालिश: मालिश करते वक्त कमरे का वातावरण भी बच्चों के अनुकूल होना चाहिए। बच्चों को खुश रखने के लिए उनके खिलौने आसपास रखें, हल्का म्यूजिक चलाएं जिससे वे खुशी-खुशी मालिश करवा लें। कमरे का वातावरण गर्म रखें ताकि कपड़े उतारने पर बच्चों को ठंड ना लगें साथ ही बहुत ठंडे तेल से मालिश ना करें। [ये भी पढ़ें: बच्चों को सोते वक्त कहानियां सुनाने के क्या लाभ होते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "