डीप ब्रीदिंग एक्सरसाइज कैसे आपको अच्छे माता-पिता बनने में मदद करती है

ow-practicing-deep-breathing-exercises-can-make-you-a-better-parent

हर माता-पिता अपने बच्चे को दुनिया की सारी खुशियां देना चाहते हैं और अपने बच्चों के लिए आदर्श माता-पिता बनना चाहते हैं। ऐसे में बच्चों के स्वास्थ्य का ख्याल रखने के साथ-साथ उनकी खुशियों का ध्यान रखना भी जरुरी होता है। बच्चा जैसे-जैसे बड़ा होता जाता है माता-पिता को उनकी परवरिश अच्छी तरह करने के साथ-साथ उनके साथ एक दोस्ती वाला रिश्ता भी बनाना पड़ता है ताकि बच्चे उनके साथ हर बात शेयर करें। डीप ब्रीदिंग (गहराई से सांस) लेने वाली एक्सरसाइज करने से भी आप आदर्श माता-पिता बन सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे डीप ब्रीदिंग एक्सरसाइज आपको अच्छा माता-पिता बनने में मदद करती है। [ये भी पढ़ें: बच्चे को पीनट बटर खिलाने के फायदे]

1.तनाव और परवरिश- तनाव के कारण आपको गुस्सा आता है और यहीं गुस्सा आप बच्चों पर निकालते हैं। बच्चे नादानी करते हैं लेकिन उनकी बातों पर गुस्सा करने की बजाय उन्हें प्यार से समझाना चाहिए। कहीं और का गुस्सा कहीं और निकालने पर आपके बच्चों की नज़रों में आपकी छवि खराब हो जाती है और आपके और आपके बच्चों के बीच तनाव पैदा हो जाता है।

2. गहराई से सांस लेना क्यों होता है उपयोगी- दरअसल डीप ब्रीदिंग तनाव को कम करने में मदद करती है। जब आप गहरी सांसें लेते हैं तो आपके शरीर में एंडोर्फिन हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है जिससे आप खुद को रिलैक्स और तनाव रहित महसूस करते हैं। यहीं कारण है कि गहराई से सांस लेना लाभकारी होती है। तनाव आपके शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ आपके निज़ी जीवन पर भी काफी बुरा प्रभाव डालता है और डीप ब्रीदिंग इसी तनाव को कम करता है। [ये भी पढ़ें: बच्चे को स्मार्ट और बुद्धिमान बनाने के लिए आसान टिप्स]

3. डीप ब्रीदिंग कैसे करें- डीप ब्रीदिंग में पेट से सांस लें और उल्टी गिनती गिनना शुरु करें। कुछ सेकेंड तक सांस रोक कर रखें और फिर धीरे-धीरे छोड़ दें। हर बार सांस लेते समय उल्टी गिनती गिनें। जब आप आराम की मुद्रा में होते हैं तो डीप ब्रीदिंग कर सकते हैं। दिनभर में कम से कम 5 मिनट डीप ब्रीदिंग को जरुर देना चाहिए।

4. डीप ब्रीदिंग कैसे मदद करती है- बच्चे नादान होते हैं उनकी शैतानियों के कारण कभी-कभार आपको बेहद गुस्सा आ सकता है। बच्चों पर गुस्सा करने से वे आपके और उनके बीच के रिश्ते को बिगड़ सकते हैं। यहीं नहीं वे इससे जिद्दी भी बन सकते हैं। अच्छे माता-पिता होने के नाते आपको अपने बच्चे को प्यार से समझाना चाहिए। डीप ब्रीदिंग करने से शरीर तनाव और मानसिक उग्रता कम होती है जिससे आपको जल्दी गुस्सा नहीं आता है। जब भी गुस्सा आए तो भी उसी समय गहराई से सांस ले जिससे गुस्सा कम करने में मदद मिलती है। [ये भी पढ़ें: बच्चे को तेल मालिश करते समय ना करें कुछ गलतियां]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "