बच्चे के रूम में हीटर रखना क्यों होता है हानिकारक

Read in English
Dangers Of Having The Heaters In The Baby's Room

ठंड के समय में अक्सर माता-पिता बच्चे को हीटर या ब्लोअर में रखते हैं ताकि उन्हें ठंड का अधिक आभास ना हो। लेकिन कई माता-पिता ऐसे होते हैं जिन्हें इस बात की जानकारी नहीं होती है कि हीटर बच्चे के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। हीटर के गर्म हवा की वजह से कई बार बच्चे का दम भी घुटने लगता है। जैसा कि आप सभी को पता है कि बच्चे अपनी परेशानी के बारे में बताने में सक्षम नहीं होता है तो इसलिए आपको हीटर का इस्तेमाल करने से पहले इससे जुड़ी जानकारी के बारे में पता लगाना आवश्यक है ताकि आपके बच्चे को किसी प्रकार की हानि ना पहुंचें। बच्चे के रूम में हीटर के इस्तेमाल करने से पहले इस बात का ध्यान जरूर रखें कि हीटर का तापमान क्या और कितना होना चाहिए ताकि आपका बच्चा सुरक्षित रहे और उसे कोई असहजता महसूस ना हो। आइए जानते हैं बच्चे के रूम में हीटर रखना क्यों हानिकारक होता है। [ये भी पढ़ें: स्तनपान छुड़वाते समय शिशु को खिलाएं स्वास्थ्यवर्धक चीजें]

रूखी और बेजान त्वचा हो जाना:
ठंड के समय बच्चे के त्वचा की नमी कम हो जाती है और ऐसे में अगर आप हीटर का इस्तेमाल करते हैं तो त्वचा और अधिक रूखी और बेजान हो जाएगी। बच्चे की त्वचा बहुत संवेदनशील होती है। त्वचा में मौजूद प्राकृतिक तेल बाहरी इरिटेंट्स से रक्षा प्रदान करता है और जब बच्चे की त्वचा रूखी हो जाती है तो इन इरिटेंट्स से इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है।

नसिका मार्ग का शुष्क हो जाना:
हमारी नाक में बलगम जो अवांछित कणों को हमारे शरीर में प्रवेश करने से रोकता है। एक कमरे की तापमान जब शुष्क हो जाती है तो नसिका मार्ग भी सूख जाती है। जब बलगम सूख जाती है तो हमारे शरीर में संक्रमण होने की संभावना बढ़ जाती है और बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली स्वयं की रक्षा करने के लिए पर्याप्त नहीं होता है। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जिनके सेवन से अपने बच्चे को रखें दूर]

कमरा बहुत गर्म हो जाना:
हीटर कमरे को बहुत गर्म कर सकता है और गर्म हो जाने के कारण ये बच्चे की रेस्पिरेट्री सिस्टम में बाधा डाल सकता है। इसके अलावा, आपके बच्चे की त्वचा अब बहुत नरम और संवेदनशील होती है तो ये त्वचा में चकत्ते और ब्रेकआउट ला सकता है। जब आपका बच्चा जन्म लेता है और उसे ताजी हवा की जरूरत होती है।

त्वचा जल जाना:
आपको ये नहीं पता होता है कि आपका बच्चा कब हीटर के पास पहुंच जाता है और उसमें हाथ डाल देता है, जिसकी वजह से उनका हाथ जल सकता है। बच्चों में यह प्रवृति ज्यादा होती है कि जहां वो आसानी से नहीं पहुंच सकते हैं वहां जाने की कोशिश करते हैं। इस प्रकार आपका बच्चा हीटर के पास पहुंच जाता है और उसमें हाथ डाल देता है। तो इसलिए अपने बच्चे के कमरे में हीटर का प्रयोग ना ही करें तो बेहतर होगा। [ये भी पढ़ें: ब्रेस्ट मिल्क कितने समय तक फ्रेश रहता है]

 

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "