स्वस्थ रूप से गर्भधारण करने के लिए टिप्स

Read in English
how to get pregnant

गर्भधारण(Getting Pregnant) की सोच रही हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखना ना भूलें।

जब भी आप गर्भधारण(Getting Pregnant) का फैसला करें तो सबसे पहले अपने भीतर एक सकरात्मक सोच को पैदा करें और साथ-साथ अपने स्वास्थ्य पर खासतौर पर ध्यान दें। इस समय पर की जाने वाली लापरवाही, आने वाले समय के लिए बहुत ही मुश्किलें पैदा कर सकती है। इन मुश्किलों से बचने के लिए जरुरी है कि आप अपने आज पर खास तौर पर ध्यान दें जिससे भविष्य में होने वाली परेशानियों को टाला जा सके। आइए जानते हैं कि किन-किन बातों का ध्यान रखकर स्वस्थ रूप से गर्भधारण किया जा सकता है। [ये भी पढ़ेंजल्दी गर्भधारण करने के उपाय]

गर्भधारण (Getting Pregnant) करने के लिए टिप्स

गर्भधारण(Getting Pregnant) से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरुर करें
अपने मासिक चक्रों के बारें में जान लें
सेक्स से जुड़े मिथकों के बारें में जरा भी न सोचे
जरूरत से ज्यादा प्रयास ना करें
अपने आपको तनाव से दूर रखें

गर्भधारण(Getting Pregnant) से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरुर करें:

how to get pregnant
गर्भधारण(Getting pregnant) करने से पहले डॉक्टर(Doctor) से सलाह लेना जरुरी होता है।

आप जब भी कंसीव करने का फैसला करें तो उससे पहले डॉक्टर से अपने शरीर की पूरी तरह से जांच करवा लें जिससे भविष्य की परेशानियों का अंदाजा शुरुआत में लगाया जा सके। इस जांच को प्री-कंसेप्शन टेस्ट कहते हैं। इन सब में अपने डॉक्टर से प्रीनेटल विटामिन जिसमें खासतौर फॉलिक एसिड के बारें में जरुर जांच करवा लें, क्योंकि फॉलिक एसिड जन्म से जुड़ी समस्याओं से जुड़ा होता है। इसकी कमी होने पर गर्भधारण करने में दिक्कतें हो सकती हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान फॉलिक एसिड का सेवन करने से क्या फायदे होते हैं, जाननेके लिए क्लिक करें।

अपने मासिक चक्रों के बारें में जान लें: आप अपने मासिक चक्रों के बारें में कितना जानती है? इस बात की पुष्टि कर लें क्योंकि यह गर्भधारण से पहले आपके लिए मददगार साबित होगा। इससे इस बात का पता लगता है कि महीने के किस दिन महिला में सबसे ज्यादा अंडोत्सर्जन होता है। जिसे ओव्यूलेशन कहा जाता है, ओव्यूलेशन गर्भधारण का सबसे सही वक्त माना जाता है। जब भी कंसीव करने का प्लान करें तो महीने के उस समय में करें जब ओव्यूलेशन सबसे अधिक हो। यह हर महिला में एक समान नहीं होता है, यह किसी भी महिला के मासिक चक्र पर निर्भर करता है।

सेक्स से जुड़े मिथकों(Myths) के बारें में न सोचे:

how to get pregnant
स्वस्थ तरीके से गर्भधारण(Getting Pregnant) करने के लिए यौन संबंध से जुड़े मिथकों(myths) से दूर रहें।

आपने यह कई जगह पढ़ा और सुना भी होगा कि गर्भधारण के समय जो सबसे जरुरी चीज होती है वो होती है सेक्स से जुड़ी बातें। जैसे सेक्स करने का सबसे सही समय, सेक्स पोजीशन आदि। यह सभी बातें एक मिथक है जिनका गर्भधारण से कोई भी खास तरह का प्रभाव नहीं पड़ता है। इस तरह की किसी भी बात का अपके गर्भधारण और आपके बच्चे पर कोई भी प्रभाव नहीं पड़ता है और यह वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित भी है।

जरूरत से ज्यादा प्रयास ना करें: कई बार बहुत से लोगों को लगता है कि ओव्यूलेशन के दिनों में समय हर दिन सेक्स संबंध बनाने से आसानी से गर्भधारण किया जा सकता है, लेकिन ऐसा जरुरी नहीं है। सम्बन्ध बनाने के 72 घंटे बाद तक अंडकोष में शुक्राणु रहते है। तो यदि गर्भधारण हो चुका होगा तो वह इस समय में ही पता चल जाएगा।

अपने आपको तनाव से दूर रखें: तनाव किसी भी गर्भधारण में बाधा डालने का काम करता है। गर्भधारण के समय तनाव लेने से इसका सीधा असर गर्भधारण में देखने को मिलता है। इसलिए गर्भधारण से पूर्व अपने आप को पूरी तरह से तनाव रहित रखें जिससे कि आप स्वस्थ रूप से गर्भधारण कर पायें। [ये भी पढ़ें: फर्टिलिटी उपचार से पहले इन बातों का रखें ख्याल]

गर्भधारण करने की सोच रही हैं तो उससे पहले कुछ टिप्स को फॉलो करना शुरु कर दें ताकि आगे चलकर किसी तरह की समस्या ना हो। इस आर्टिकल को इंग्लिश (English) में भी पढ़ें।

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "