डायबिटीज के लिए उपयोगी सुपरफूड्स

Read in English
superfoods for diabetic patients

Photo Credit: www.quickcash4teststrips.com

आजकल काफी लोग डायबिटीज से ग्रसित होते हैं। जिसकी वजह से उन्हें अपने खाने-पीने का खास ख्याल रखना होता है। डायबिटीज में उन खाद्य पदार्थों से परहेज किया जाता है जिनके सेवन से शुगर लेवल बढ़ता है। ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखना डायबिटीज के मरीज के लिए अत्यंत आवश्यक होता है। ऐसे में स्टार्च, कार्बोहाइड्रेट से युक्त तथा मीठे खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं। कुछ सुपरफूड्स की मदद से डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है। इससे डायबिटीज होने की संभावना भी कम होती हैं। तो आइए आपको इन सुपरफूड्स के बारे में बताते हैं।[ये भी पढ़ें: सर्दियों में खाएं खाद्य पदार्थ जो शरीर को करते हैं डिटॉक्स]

टमाटर: टमाटर में पर्याप्त मात्रा में लाइकोपिन होता है जो दिल की बीमारियों और डायबिटीज के खतरे को कम करता है। ग्लाइसेमिक इंडेक्स में टमाटर का स्थान निम्न होता है। रोजाना दो टमाटर खाने के कार्डियोवॉस्कुलर बीमारी का खतरा काफी कम हो जाता है।

ब्रोकली: ब्रोकली में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो ब्लड शुगर में सुधार करके रक्त कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाते हैं। ब्रोकली में सल्फरफेन होता है जो शरीर से विषाक्त पदार्थ निकालने की प्रक्रिया को बूस्ट करता है।[ये भी पढ़ें: सहजन के सेवन से होने वाले स्वास्थ्य लाभ]

अखरोट: अखरोट में ओमेगा फैटी एसिड-3 होता है जो की इंफ्लेमेशन को कम करने और रक्त संचार को सही करने के लिए उपयोगी होता है। यह टाइप-2 डायबिटीज को कम करने के साथ-साथ कार्डियोवॉस्कुलर बीमारियों के खतरे को भी कम करता है।

योगर्ट: कम-फैट वाले डेयरी खाद्य पदार्थ जैसे की दूध और योगर्ट में विटामिन D पर्याप्त मात्रा में होता है। इनका स्थान ग्लाइसेमिक इंडेक्स में काफी नीचे होता है इसलिए इनका सेवन शरीर के लिए लाभकारी होता है। साथ ही कम-फैट वाले योगर्ट का सेवन करने से टाइप-2 डायबिटीज का खतरा कम होता है। योगर्ट टाइप-2 डायबिटीज के खतरे को 9 प्रतिशत तक कम करता है।

केल: शरीर के लिए विटामिन सी एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व होता है। यह पानी में घुलने वाला एक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो शरीर की कोशिकाओं के लिए महत्वपूर्ण काम करता है। केल शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है। कोलेस्ट्रॉल ज्यादा ना होने की वजह से हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। साथ ही यह ब्लड शुगर के लेवल को ना के बराबर बढ़ाता है इसलिए इसका सेवन डायबिटीज के रोगी कर सकते हैं।[ये भी पढ़ें: एनीमिया को दूर करने के लिए उपयोगी सुपरफूडस]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "