ज्यादा अखरोट खाने से क्या नुकसान हो सकते हैं

side effects of having too much walnuts

अखरोट स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर होते हैं। इसके बीज में मौजूद प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन और एसेंशियल मिनरल्स स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। अखरोट को ब्रेन फूड भी कहा जाता है क्योंकि अखरोट की सतह की संरचना दिमाग की तरह होती है। अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड होते हैं जो दिमाग की एक्टिविटी को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके साथ ही अखरोट में एंटीऑक्सीडेंट और प्रोटीन होते हैं जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। लेकिन अति किसी चीज की अच्छी नहीं होती और यह बात अखरोट के सेवन पर भी लागू होती है। आवश्यकता से अधिक अखरोट खाना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। आइए जानते हैं कि दिनभर में कितनी मात्रा में अखरोट खाना चाहिए और इसके अधिक सेवन से क्या नुकसान होते हैं। [ये भी पढ़ें: विटामिन K की कमी को पूरा करने के लिए उपयोगी सुपर फूड्स]

1. वालनट इंटोलरेंस: बहुत सारे लोगों को किसी विशेष खाद्य पदार्थों से एलर्जी होती है। अखरोट से होने वाली एलर्जी को वालनट इंटोलरेंस कहते हैं। इस समस्या में अखरोट खाने से गैस, पेट फूलना और उल्टी होना शामिल हो सकता है। इसलिए वालनट इंटोलरेंस से पीड़ित लोगों को अखरोट नहीं खाना चाहिए। दिनभर में 2-3 से अधिक अखरोट नहीं खाने चाहिए।

2. पाचन तंत्र पर नकारात्मक प्रभाव: अखरोट में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है इसलिए अखरोट का सेवन पाचन तंत्र के लिए लाभकारी होता है लेकिन अखरोट का अधिक मात्रा में सेवन फाइबर की उच्च मात्रा आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डालती है और अत्यधिक फाइबर के कारण आपको गैस, पेट फूलने और अपच की समस्या हो सकती है। [ये भी पढ़ें: पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का लेवल बढ़ाने के लिए उपयोगी सुपरफूड्स]

3.जी मिचलाना: डिब्बा बंद अखरोट के साथ सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि इनका सेवन हम कब अधिक मात्रा में कर लेते हैं हमें खुद पता नहीं चलता। अधिक अखरोट खाने से डायरिया और जी मिचलाने जैसी समस्या हो सकती है क्योंकि इसमें मौजूद अधिक मात्रा में हिस्टामिन से डायरिया और जी-मिचलाने की परेशानी हो सकती है।

4.त्वचा पर रैशेज होना: जरुरत से ज्यादा अखरोट खाने से त्वचा पर रैशेज और सूजन जैसी समस्या हो सकती है, क्योंकि अखरोट और नट्स से एलर्जी होने पर ये लक्षण होना स्वाभाविक होता है। इसलिए आवश्यकता से अधिक अखरोट खाने से त्वचा पर रैशेज हो सकते हैं।

5.गर्भवती महिलाओं के लिए हानिकारक: अधिक मात्रा में अखरोट का सेवन एलर्जी का कारण हो सकता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं और शिशु को स्तनपान करवाने वाली माताओं को अधिक अखरोट के सेवन से बचना चाहिए। [ये भी पढ़ें: महिलाओं प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के स्तर बढ़ाने के लिए उपयोगी सुपरफूड्स]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "