Navratri Special: कूटु के आटे का सेवन कैसे है फायदेमंद

navratri special health benefit of Buckwheat

Pic Credit: blog.getfitso.com

अधिकतर लोग मानते हैं कि कूटु एक अनाज हैं जबकि ऐसा नहीं है। यह एक फल है और इसी फल से कूटु का आटा बनाया जाता है। नवरात्रि व्रतों के दौरान अधिकतर कूटु के आटे का सेवन किया जाता है। नवरात्र सीजन शुरु हो गया है और इन दिनों बाजार में कूटु के आटे की मांग बहुत होगी। कूटु का आटा बहुत गर्म होता है। हालांकि इसका सेवन साल के सामान्य दिनों में नहीं किया जाता है। केवल व्रत के दौरान ही इसके द्वारा बनाएं गए व्यंजनों का सेवन किया है। कूटु का आटा पोषण से भरपूर होता है। इसके सेवन से हमारे शरीर को उर्जा की पूर्ति होती है जिसके कारण हम दिनभर सभी अनुष्ठान कर पाते हैं। इसके साथ ही कूटु के आटे में एंटी-ऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं जो शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। इसके अलावा भी कूटु के आटे के कई फायदे होते हैं। आइए जानते है इनके बारे में। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: व्रत के दौरान नाश्ते में क्या खाना होगा बेहतर]

Navratri Special: कूटु के आटे के फायदे

प्रोटीन की उच्च मात्रा
पाचन में सुधार
नॉन एलर्जिक
हड्डियों को मजबूत करता है
कूटु और दही

प्रोटीन की उच्च मात्रा: कूटु में उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन की प्रचुर मात्रा होती है। यह व्रत के दौरान आपके पेट को अधिक समय तक भरे रखता है जिससे आपको बार-बार भूख नहीं लगती।

पाचन में सुधार:  कूटु के आटे में न्यूट्रल थर्मल प्रोपर्टीज पाई जाती हैं जो आपकी आंतों को साफ और मजबूत करने में मदद करती हैं। व्रत के दौरान आप कूटु का सेवन करते हैं तो पाचन में परेशानी नहीं होती। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: पहले दिन देवी शैलपुत्री की पूजा का महत्व]

नॉन एलर्जिक: कूटु का आटा त्वचा के लिए लाभकारी होता है। यह त्वचा से जुड़े संक्रमण को रोकने में भी मदद करता है। यह आपकी त्वचा को धूल, पंख और पराग, बैक्टीरिया से होने वाली एलर्जी से दूर रखता है।

हड्डियों को मजबूत करता है: कूटु में पाएं जाने वाला मैग्नीज आपकी हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है। यह कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाता है और ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या को रोकता है। इसे सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं।

कूटु और दही: कूटु और दही का सेवन एक साथ करने से इनका पोषण और बढ़ जाता है। इन दोनों को एक साथ खाने से इनकी वार्म पोटेंसी बढ़ जाती है। इसी कारण सर्दियों में कूटु के आटे का सेवन करना उचित होता है। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: व्रत में सेंधा नमक का सेवन क्यों फायदेमंद है]

Tags: navratri special in hindi
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "