Navratri Special: व्रत में खाया जाने वाला साबुदाना हैं बहुत लाभकारी

Read in English
navratri special amazing health benefits of sabudana

Pic Credit: thesoulcurry.com / placeoforigin.in / farm4.staticflickr.com

नवरात्र में व्रत के दौरान हम सभी ने साबुदाना तो खाया ही होगा। साबुदाना से हम कई तरह के व्यंजन जैसे साबुदाना की खीर, साबुदाना की खिचड़ी, साबुदाना की सलाद, साबुदाना की टिक्की आदि। इन सभी व्यंजनों के नाम से ही इनके स्वाद का पता चल जाता है लेकिन इनके सेवन के दौरान क्या आपने कभी सोचा है कि ये स्वस्थ भी है। खैर घबराइए मत, साबुदाना स्वास्थ्य के नजरिए से काफी बेहतर विकल्प है जिसका सेवन आप व्रत के दौरान कर सकते हैं। इससे आप अपना स्वास्थ्य भी सुनिश्चित कर पाते हैं। आइए जानते हैं कि आपको व्रत के दौरान साबुदाना क्यो खाना चाहिए। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: पहले दिन देवी शैलपुत्री की पूजा का महत्व]

Navratri Special: साबुदाने के स्वास्थ्य लाभ

मसल्स के लिए बेहतर आहार
पोटेशियम मौजूद होता है
उर्जा के स्तर को बढ़ाता है
पाचन में सुधार
हड्डियों को स्वस्थ रखता है

मसल्स के लिए बेहतर आहार: साबुदाना मसल्स ग्रोथ के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। साबुदाना में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा होती है। प्रोटीन आपकी मसल्स को स्वस्थ रखता है। साबुदाना आपके शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा करता है साथ ही यह आपके प्रोटीन सप्लीमेंट्स से किफायती है।

पोटेशियम मौजूद होता है: साबुदाना में पोटेशियम की प्रचुर मात्रा होती है। पोटेशियम एक जरुरी मिनरल है जो कि आपके शरीर में रक्त संचार और रक्त दाब को बनाएं रखने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल: दूसरे दिन देवी ब्रह्मचारिणी की पूजा का महत्व]

उर्जा के स्तर को बढ़ाता है: साबुदाना में अच्छे कार्ब्स यानि स्टार्च की प्रचुर मात्रा होती है जिसके कारण व्रत के दौरान इसका सेवन आपको उर्जावान रखता है और आप व्रत के बाद थकान महसूस नहीं करते।

पाचन में सुधार: साबुदाना गैस, अपाचन और पेट में अफरापन होने जैसी समस्याओं के लिए भी उचित आहार है। इसका सेवन आप दिन या रात के समय कभी भी कर सकते हैं। व्रत के दौरान पेट को स्वस्थ रखने के लिए यह बेहतर विकल्प है।

हड्डियों को स्वस्थ रखता है: साबुदाना में कैल्शियम, आयरन और विटामिन के की पर्याप्त मात्रा पाइ जाती है। ये पोषक तत्व हड्डियों को स्वस्थ रखने और इन्हें मजबूत बनाने में मदद करते हैं। साथ ही यह लचीलापन भी बढ़ाता है। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: कूटु के आटे का सेवन कैसे है फायदेमंद]

Tags: navratri special in hindi
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "