नारियल के अंदर के सफेद हिस्से के स्वास्थ्यवर्धक लाभ

benefits-young-coconut-meat

नारियल के अंदर का सफेद भाग जिसे कोकोनट मीट भी कहते हैं काफी स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत के लिए लाभकारी होता है। इसका इस्तेमाल कच्चा खाने के साथ-साथ मिठाई बनाने, चटनी बनाने आदि में किया जाता है। यह शरीर को हाइड्रेट करने के लिए एक उपयोगी खाद्य पदार्थ है इसे कच्चा या पका कर तो खा ही सकते हैं साथ ही इससे निकलने वाला दूध भी काफी लाभकारी होता है। आइए इसके स्वास्थ्यवर्धक लाभ के बारे में जानते हैं। ये भी पढ़ें: नाश्ते में किन सुपरफूड का सेवन करना होता है बेहतर]

1.फाइबर : नारियल का अंदरुनी हिस्सा यानि की नारियल मीट के एक कप में 7 ग्राम फाइबर होता है। ये पाचन तंत्र को और भी अधिक सरल और मजबूत बनाता है, उच्च फाइबर युक्त नारियल के सेवन से कब्ज और बवासीर का खतरा भी कम होता है। इसलिए इसका सेवन शरीर के लिए उपयोगी होता है।

2. फैटी एसिड: नारियल का ये सफेद भाग फैटी एसिड से युक्त होता है। साथ ही नारियल का सेवन हमारे मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है यह तुरंत ऊर्जा प्रदान करने का भी एक स्त्रोत है जिससे नारियल का रोजाना सेवन करने वाले लोगों को बार-बार भूख का एहसास नहीं होता जिससे आप ज्यादा खाने से बचे रहते हैं और इससे बेवजह वजन नहीं बढ़ता ।

3.विटामिन E से भरपूर: नारियल का सफेद भाग यानि की नारियल मीट कैलोरीज, मिनरल्स और विटामिन से भरपूर होता है। इसमें विटामिन E होता है इसलिए ये त्वचा के लिए लाभकारी होता है, साथ ही इसमें विटामिन E होने के साथ-साथ विटामिन C, K, और A भी होता है। इसलिए ये चेहरे, बालों और आंखों के लिए काफी फायदेमंद होता है।[ये भी पढ़ें: चीकू को अपने आहार में शामिल क्यों करें]

4. पोटेशियम की कमी को पूरा करता है: नारियल के सफेद भाग में विटामिन B के सभी प्रकार तो मौजूद होते ही हैं साथ ही इसमें पोटेशियम भी भरपूर मात्रा में होता है जो की मानव शरीर के शारीरिक स्वास्थ्य के लिए आवश्यक होता है। इसमें हमारे दैनिक जीवन के लिए आवश्यक पौटेशियम की 7.5 प्रतिशत मात्रा होती है। इसलिए इसका सेवन लाभकारी होता है।

5. पेट की चर्बी को कम करता है: पेट की चर्बी शारीरिक स्वास्थ्य के लिए सर्वाधिक हानिकारक होती है, इस मोटापे कारण आप कई बीमारियों का शिकार हो सकते हैं। इसलिए नारियल मीट काफी उपयोगी रहता है इसके 200 ग्राम सेवन से यह कमर और पेट के फैट को कम करता है। बेहतर रिजल्ट के लिए इसका उपयोग 12 सप्ताह तक रोजाना करें। [ये भी पढ़ें: एनर्जी बूस्ट करने के लिए करें सुपरफूड का सेवन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "