कद्दू के बीज में हैं बहुत से स्वास्थ्यवर्धक गुण

amazing health benefits of pumpkin seeds

कद्दू का बीज एक ऐसा सुपरफूड होता है जिसके अनेकों स्वास्थ लाभ होते हैं। इसमें विटामिन-ई और ए के साथ-साथ मेग्नीशियम, कॉपर और फॉस्फोरस भी होता है जो शरीर को संक्रमण से बचाता है और विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालता है। कद्दू का बीज एक न्यूट्रिशनल पावरहाउस की तरह काम करता हैं जो त्वचा, बालों और अन्य शारीरिक समस्या से राहत दिलाता हैं। आइए कद्दू के बीज के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं। [ये भी पढ़ें: पेट की समस्या के अलावा टर्की के अन्य स्वास्थ्य लाभ]

चेहरे को मॉइस्चराइज करता है: कद्दू के बीज में ओमेगा-3 जैसे अनसैचुरेटेड फैटी एसिड उच्च मात्रा में पाए जाते हैं। जो त्वचा को मॉइस्चराइज करने में मदद करता है। कद्दू का बीज, मक्खन और शहद का मिश्रण बनाएं और उसे 10 से 15 मिनट तक चेहरे पर लगाकर छोड़ दें। फिर उसे ठंडे पानी से अच्छी तरह धो लें। इससे त्वचा को नमी पहुंचेगी।

घाव को भरने का काम करता है: कद्दू के बीज में विटामिन-ए होता है जो घाव को जल्दी भरने का काम करता है। इसमें जिंक भी उच्च मात्रा में पाया जाता है जो दर्द और सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है। रोजाना कच्चे, अंकुरित या भुना हुआ कद्दू के बीज का सेवन करना फायदेमंद होता है। [ये भी पढ़ें: इन सुपरफूड्स के सेवन से करें अपनी हड्डियों को मजबूत बनाएं]

बालों को घना करता है: कद्दू के बीज में आयरन और एल-लाइसिन होता है जो बालों के झड़ने को रोकता है और साथ ही बालों को घना करने में भी मदद करता है। रात में कद्दू के बीज के तेल को बालों के जड़ों तक अच्छी तरह लगाएं और अगली सुबह बाल धो लें। इससे बाल लंबे और घने हो जाएंगे और साथ ही बालों में चमक आ जाती है।

इम्यूनिटी को बढ़ाता है: कद्दू के बीज में जिंक होता है जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है और इंफ्लेमेट्री साइटोकाइन्स को जेनेरेट करता है। यह शरीर में इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और साथ ही ताकत प्रदान करता है। रोजाना कच्चे, अंकुरित और भूने हुए कद्दू के बीज का सेवन इम्यूनिटी को बढ़ाता है।

आंखों की रोशनी तेज करता है: कद्दू के बीज में विटामिन-ए होता है जो आंखों की रोशनी के लिए फायदेमंद होता है। इससे आंखों में होने वाली खुजली और लालीपन भी दूर हो जाती है। रोजाना कच्चे, अंकुरित और भूने हुए कद्दू के बीज का सेवन करने से आंखों की समस्या कम हो जाती है। [ये भी पढ़ें: प्रोटीन से भरपूर बीन्स के सेवन से मिलते हैं अनेकों स्वास्थ्य लाभ]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "