Frequent urination: बार-बार पेशाब आने की समस्या के लिए घरेलू उपचार

Read in English
home remedies for frequent urination

बार-बार पेशाब आने की समस्या को रोकने के लिए आपको कुछ प्राकृतिक तरीकों को अपनाना चाहिए।

Frequent urination: बहुत से लोगों को अक्सर बार-बार पेशाब या अत्यधिक पेशाब आने की समस्या होती है। यह समस्या ब्लैडर के अति सक्रिय होने, मधुमेह, गर्भावस्था, मेनोपौज, नर्व डैमेज, मोटापा, बुढ़ापा आदि कारणों की वजह से हो सकती है। हालांकि यह समस्या गंभीर नहीं है, लेकिन यह काफी असुविधा का कारण बनती है। यदि बार-बार पेशाब आने के साथ पेशाब करते वक्त दर्द, पेशाब में रक्त, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन आदि समस्याएं हो रही हैं तो यह चिंता का विषय है और आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। कुछ घरेलू उपचार हैं जो बार-बार पेशाब आने की समस्या से छुटकारा पाने में मदद करते हैं। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जो बार-बार पेशाब आने की समस्या को दूर करते हैं]

Frequent urination: बार-बार पेशाब आने की समस्या से छुटकारा पाने के प्राकृतिक तरीके

  • सेब का सिरका
  • गर्म पानी से सिंकाई
  • दही
  • आंवला
  • पानी का सेवन बंद ना करें

सेब का सिरका

Frequent Urination Home Remedies
सेब का सिरका बार-बार पेशाब आने की समस्या को रोकने में मदद करता है।

सेब के सिरके में एंटी बैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो इसे एक स्वस्थ पेय बनाते हैं। यह शरीर के पीएच संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है क्योंकि इसमें प्राकृतिक मिनरल होते हैं। एक चम्मच सेब के सिरके में शहद मिलाएं। इसमें कुछ पानी मिलाएं। इसे दिन में दो बार पिएं।

गर्म पानी से सिंकाई
गर्म पानी से सिंकाई करने से नसों और मांसपेशियों को राहत मिलती है। यह दर्द को कम करता है और लगातार पेशाब आने की समस्या को रोकता है।

दही

Natural Home Remedies for Frequent Urination
रात को सोने से पहले पानी का सेवन ना करें।

दही में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो ब्लैडर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। यह ब्लैडर और किडनी को ठीक से काम करने में मदद करता है। दही का हर रोज सेवन करें। फ्लेवर्ड दही ना खाएं।

आंवला
स्वस्थ और फिट रहने के लिए, आंवले का सेवन करें। इसमें विटामिन सी होता है जौ ब्लैडर इंफेक्शन को कम करता है। थोड़ा आमला जूस लें और इसमें कुछ शहद मिलाएं। इस मिश्रण को केले के साथ हर रोज सेवन करें।

पानी का सेवन बंद ना करें
बहुत से लोग सोचते हैं कि पानी का सेवन या तरल पदार्थों का सेवन कम करने से बार-बार पेशाब आने की समस्या कम हो जाएगी। लेकिन ऐसा सच नहीं है। छोटे कप और कम मात्रा में पानी पिएं लेकिन दिन भर पिएं। हालांकि, सोने से पहले पानी ना पिएं।

[जरुर पढ़ें: पेशाब का रंग पीला होने के कारण]

ये प्राकृतिक घरेलू उपचार आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या को रोकने में मदद करते हैं। आप इस आर्टिकल को इग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "