आईब्रो बनवाने के बाद होने वाली जलन को दूर करने के घरेलू उपचार

Read in English
Simple home remedies cure skin irritation threading

Photo Credit: threadinshape.com.au

महिलाएं अपने शरीर के बालों को हटाने के कई तरीके अपनाती हैं। लेकिन जब बात चेहरे की आती है तो थ्रेडिंग एक बेहतर विकल्प होता है क्योंकि इससे चेहरे को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है और ना ही इसके लिए किसी केमिकल की जरूरत पड़ती है। केमिकल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से चेहरे पर कई समस्या होने का खतरा रहता है इसलिए थ्रेडिंग करवाना बेहतर होता है। हालांकि थ्रेडिंग करवाते वक्त बहुत दर्द महसूस होती है और साथ ही इसके बाद जलन और सूजन जैसी समस्या भी हो जाती है। इनसे राहत पाने के लिए क्रीम के इस्तेमाल के बजाय घरेलू उपचारों का इस्तेमाल करना बेहतर होता है क्योंकि इससे त्वचा सुरक्षित रहता है।  [ये भी पढ़ें: होठों की सूजन को दूर करने के लिए घरेलू उपचार]

थ्रेडिंग के बाद टोनर का इस्तेमाल करें:
टोनर में कूलिंग इफेक्ट होता है जो आपको थ्रेडिंग के कारण होने वाली जलन से राहत प्रदान करता है और साथ ही सूजन को भी कम करता है। एक कॉटन में टोनर लें और उसे प्रभावित हिस्से पर लगाएं। टोनर आपके स्किन पोर्स को बंद कर देता है जो आपके थ्रेडिंग के बाद खूल जाते हैं।

बर्फ लगाएं:
बर्फ लालीपन, सूजन और जलन की समस्या को दूर करने का एक बेहतर विकल्प होता है और साथ ही ये थ्रेडिंग के बाद होने वाले रैशेज और कट से भी राहत प्रदान करता है क्योंकि इसमें कूलिंग और सूदिंग इफेक्ट होता है। बर्फ को प्रभावित हिस्से पर थोड़ी देर रब करें।  [ये भी पढ़ें: कान से पानी बाहर निकालने के लिए घरेलू उपाय]

दूध:
दूध में होने वाला प्रोटीन थ्रेडिंग के बाद होने वाली जलन, लालीपन और सूजन को दूर करने में मदद करता है और साथ ही आपकी त्वचा को भी रक्षा प्रदान करता है। दूध को रूई में डुबोएं और प्रभावित हिस्से पर लगाएं।

खीरा:
खीरे में एनजेसिक इफेक्ट होता है जो थ्रेडिंग के बाद होने वाली जलन को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें एंटीऑक्सीडेंट भी होता है जो आईब्रो के आस-पास के हिस्सों में होने वाली जलन और सूजन को कम करता है। खीरे के स्लाइज को आईब्रो पर रखकर 10-15 मिनट तक छोड़ दें।

एलोवेरा का पत्ता:
त्वचा को शांत और जल्दी ठीक करने के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल करना बेहतर विकल्प होता है। एलोवेरा के पत्ते से उसके जूस को निकालें और आईब्रो के आस-पास लागएं। एलोवेरा में कूलिंग इफेक्ट होता है जो जलन को कम करने और लालीपन को कम करने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: शुष्क आँखों के लिए घरेलू उपचार]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "