घरेलू उपायों के बारे में प्रचलित मिथक जिन पर विश्वास ना करें

Read in English
Misconceptions About Home Remedies We Should Stop Believing

Photo Credit: Livestrong.com

बीमारियों और घावों को ठीक करने के लिए प्राचीन काल से ही पारंपारिक घरेलू उपायों का इस्तेमाल किया जाता रहा है। बीमारियों का इलाज मौजूद होने के बाद भी लोग घरेलू उपायों पर भरोसा करते हैं। इस बात में कोई दोराहें नहीं है कि साइंस ने हर चीज को आसान और तेज बना दिया है। लेकिन आज भी बहुत से लोग घरेलू उपायों के बारे में अधिक नहीं जानते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि आज भी लोगों के दिमाग में घरेलू और प्राकृतिक उपायों को लेकर काफी संशय है। प्राचीन काल से चले आ रहे घरेलू उपायों का महत्व समझना जरुरी होता हैं इसलिए नेचुरल और घरेलू उपायों से जुड़े कुछ मिथक के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। जिनको जानने के बाद आप घरेलू उपायों पर फिर भरोसा करने लगेगें। [ये भी पढ़ें: वजन घटाने के बाद त्वचा के ढ़ीलेपन को दूर करने के घरेलू उपचार]

मिथक: घरेलू उपाय किसी चीज का उपचार नहीं कर सकते: बहुत से लोगों का मानना होता है कि घरेलू उपाय काम नहीं करते, इससे घाव और दर्द ठीक नहीं होते। यह एक साधारण सा मिथक है घरेलू उपायों की सहायता से दर्द ठीक होने में थोड़ा समय लगता है जो कि किसी भी दर्द और चोट को ठीक करने का सबसे आसान उपाय होता है। त्वचा की परेशानियों को दूर करने से लेकर बहुत सारी गंभीर बीमारियों को ठीक करने के लिए घरेलू उपाय बेहद लाभकारी और उपयोगी होते हैं। आपको सिर्फ उन तत्वों के इस्तेमाल करने के तरीकों के बारे में सब कुछ पता होना चाहिए।

मिथक: आप अन्य दवाओं के साथ घरेलू उपायों का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं: अगर आपको डॉक्टर किसी तरह की दवा देते हैं तो आप घरेलू उपचार भी जारी रख सकते हैं। उदाहरण के लिए अगर कोई व्यक्ति दांतो और मसूड़ों के दर्द और संक्रमण से परेशान है तो वह दवा लेने के साथ-साथ नमक के पानी से कुल्ला भी कर सकता है। ऐसे में आप जो भी दवा लेते हैं वह इन घरेलू उपायों के साथ कोई क्रिया नहीं करता है। आप इस तरह के घरेलू उपायों का सहयोग ले सकते हैं। लेकिन अगर आप किसी चीज का सेवन करते हैं तो एक बार अपने डॉक्टर से परामर्श लेना जरुरी होता है। [ये भी पढ़ें: गर्दन के कालेपन को दूर करने के घरेलू उपाय]

मिथक: चिकित्सक घरेलू उपायों को इस्तेमाल करने से मना करते हैं: बहुत सारी दवाएं हर्ब्स और मसालों से बनती है। इसलिए आप दवाओं को घरेलू उपायों से अलग नहीं समझ सकते। डॉक्टर जानते हैं कि कौनसी दवा किस- किस केमिकल से मिलकर बनी है और वे आपकी बीमारी के अनुरुप ही आपको दवा देते हैं। इसलिए यह सच नहीं की डॉक्टर दवाओं के साथ हमेशा घरेलू उपाय इस्तेमाल ना करने की सलाह देते हैं।

मिथक: घरेलू उपाय स्थितियों को और भी बुरा बना देते हैं: यह सोचना गलत है कि घरेलू उपायों का इस्तेमाल करने से आपकी बीमारी और बढ़ जाती है। इनके इस्तेमाल से आपके शरीर को पोषक तत्व सीधे तौर पर मिलते हैं। और ये तेजी से घावों और दर्द को ठीक करने में मदद करते हैं। साथ ही शुद्ध तत्व किसी भी तरह से नुकसान नहीं पहुंचाते।

मिथक: घरेलू उपाय सस्ते होते हैं इसलिए ये हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं: यह पूरी तरह गलत है कि घरेलू उपायों के साइड- इफेक्ट्स होते हैं। इन घरेलू उपायों का इस्तेमाल करके आप बेहतर तरीके से अपने रोग को ठीक कर सकते हैं। ये सस्ती जरुर होती है लेकिन इनमें केमिकल नहीं होते इसलिए ये दवाओं की तरह शरीर पर दुष्प्रभाव नहीं डालती ।[ये भी पढ़ें: घरेलू उपचार जिनकी मदद से ब्रेस्ट साइज कम किया जा सकता है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "