वॉटर रिटेंशन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय

how to get rid of water retention by simple home remedies

वॉटर रिटेंशन के कारण पैरों और धड़ में सूजन और दर्द की समस्या उत्पन्न होती है। वॉटर रिटेंशन को एडिमा भी कहा जाता है जिसमें शरीर के विभिन्न हिस्सों में बहुत से कारणों की वजह से पानी की मात्रा अधिक हो जाती है। एडिमा की वजह से हाई ब्लडप्रेशर, जोड़ों में दर्द, तनाव और वजन बढ़ना जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है। यह स्थिति दवाओं, शारीरिक निष्क्रियता, नमक के अत्यधिक सेवन, विटामिन की कमी, गर्भनिरोध का सेवन करने से होता है। इस समस्या से कुछ आसान घरेलू उपायों की मदद से निजात पा सकते हैं। आइए आपको इन घरेलू उपायों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: गैस की समस्या को दूर करने के कुछ घरेलू उपचार]

1. पार्सले: पार्सले में ड्यूरेटिक प्रॉपर्टीज होते हैं जो वॉटर रिटेंशन की समस्या के लिए बहुत प्रभावी होते हैं। यह शरीर से अधिक पानी को निकालने में मदद करता है। इसके लिए पार्सले की पत्तियों को पानी में उबालें। पानी को थोड़ी देर ठंडी होने दें और फिर उस पानी को दिन में कम से कम 2 से 3 बार जरूर पिएं। ऐसा करना एडिमा के कारण होने वाले दर्द और सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है।

2. सेब का सिरका:
how to get rid of water retention by simple home remedies सेब के सिरका में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो शरीर में सोडियम के स्तर को कम करता है। सोडियम हमारे शरीर में पानी को रोकता है इसलिए सिरका इस स्थिति में प्रभावी हो सकता है। रोजाना एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाकर पिएं। ऐसा करना आपके लिए लाभकारी हो सकता है। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान उल्टी की समस्या है तो अपनाएं ये घरेलू उपचार]

3. क्रैनबेरी जूस: क्रैनबेरी जूस में ड्यूरेटिक प्रॉपर्टीज होते हैं जो वॉटर रिटेंशन की समस्या से राहत दिलाने में सहायता करते हैं। क्रैनबेरी जूस मे मैग्नीशियम, पोटेशियम और कैल्शियम जैसे तत्व प्रचुर मात्रा में पाएं जाते हैं जो शरीर में पानी की मात्रा को संतुलित रखने में मदद करता है। रोजाना एक कप क्रैनबेरी जूस पीना आपके लिए फायदेमंद होता है। आप क्रैनबेरी गोलियां भी ले सकते हैं।

4. डैंडेलियन: शोधकर्ताओं ने बताया है कि डैंडेलियन(सिंहपर्णी )शरीर में मूत्र उत्पादन(यूरिन प्रोडक्शन) को बढ़ावा देता है। इसमें पोटेशियम प्रचुर मात्रा में पाई जाती है इसलिए यह शरीर में सोडियम के स्तर को कम करता है। डेंडिलियन मैग्नीशियम में भी समृद्ध है, जो मासिक धर्म के समय होने वाली सूजन को कम करने में मदद करता है। डैंडेलियन की पत्तियों को उबालें और उसे लगभग 10 मिनट के लिए छोड़ दें। इस मिश्रण को रोजाना पिएं।

5. नींबू का रस:
how to get rid of water retention by simple home remedies नींबू का रस शरीर से अत्यधिक तरल पदार्थ को नष्ट करता है और साथ ही शरीर के विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालता है। एक कप गर्म पानी में नींबू का रस डालें। नींबू के रस को गर्म पानी में अच्छी तरह मिलाएं और उसमें शहद डालें। इस मिश्रण को रोजाना दिन में एक बार जरूर पिएं। यह आपके शरीर में पानी की मात्रा को संतुलित रखने में मदद करता है।

6. सौंफ: सौंफ एक ड्यूरेटिक प्रॉपर्टीज के रूप में कार्य करता है और गुर्दे से सोडियम और पानी का उत्पादन बढ़ाने में मदद करता है। यह शरीर से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालता है, पाचन क्रिया मजबूत करता है साथ ही गैस से राहत दिलाने में मदद करता है। सौंफ को गर्म पानी में उबालें और उस पानी को 10 मिनट के लिए छोड़ दें। रोजाना इस पानी को 2 से 3 बार पिएं। [ये भी पढ़ें: हिचकी रोकने के आसान घरेलू उपचार]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "