mustered seeds home remedies: राई की मदद से किए जाने वाले घरेलू उपाय

Home remedies with the help of mustered seeds

राई का सेवन सेहत के लिए लाभकारी होता है।

mustered seeds home remedies:  राई के दानों यानी की सरसों के बीजों का इस्तेमाल भारतीय घरों में मुख्य मसाले के रुप में किया जाता है। राई का सेवन करना सेहत और सौंदर्य के लिए लाभकारी होता है साथ ही यह खाने के स्वाद को भी बढ़ा देता है। खाने में तड़का देने के लिए मुख्य रुप से राई और राई-जीरे का इस्तेमाल किया जाता है। राई के बीजों में ओमेगा-3 फैटी एसिड, मैग्नीशियम और सेलेनियम जैसे पोषक तत्व होते हैं साथ ही यह फास्फोरस, मैगनींज, कॉपर और विटामिन बी1 का भी स्त्रोत होती है। आइए जानते हैं कि राई का इस्तेमाल किन घरेलू उपायों में किया जा सकता है। [ये भी पढ़ें: shaking teeth: दांतों के हिलने की समस्या को दूर करने के लिए टिप्स]

mustered seeds home remedies:  राई की मदद से कौनसे घरेलू उपाय किए  जा सकते हैं

  • शरीर को फायदा देती है
  •  राई का सेवन सूजन कम करता है
  • बीमारियों से बचाव होता है
  • कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करती है
  • त्वचा के लिए लाभकारी

1.शरीर को फायदा देती है- 
राई के दानें कैल्शियम, मैग्नीशियम, ओमेगा-3 फैटी एसिड और आयरन,फाइबर से भरपूर होते हैं इसलिए इन्हें अपनी डाइट में शामिल करना फायदेमंद होता है।

2. राई का सेवन सूजन कम करता है- 
राई को दानों में सेलेनियम होता है जो कि एक एंटी-इंफ्लेमेट्री गुणों वाला तत्व माना जाता है। राई के दानों का सेवन करने से सूजन की समस्या से निजात मिलती है। राई के तेल से मालिश करने पर भी सूजन कम होती है।

3.बीमारियों से बचाव होता है- 
राई के दानों में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम होता है इसलिए राई के दानों का सेवन करने से अस्थमा, अर्थराइटि्स और निम्न रक्तचाप की समस्या से निजात मिलती है। भिगोकर राई के दानों का सेवन करने से बीमारियां नहीं होती है।

4. कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करती है-

Home remedies with the help of mustered seeds
mustered seeds home remedies:  बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करने के लिए राई का सेवन लाभकारी होताहै।

राई में नियासिन यानि विटामिन बी-3 पर्याप्त मात्रा में होता है इसलिए राई कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए लाभकारी होती है। रात को पानी में राई भिगोकर खाने से हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या कम होती है।

5. त्वचा के लिए लाभकारी-
राई में मौजूद पोषक तत्व खूबसूरती बढ़ाने के लिए भी लाभकारी होते हैं। त्वचा को हाइड्रेट करने के लिए, एजिंग को धीमा करने के लिए, इंफेक्शन को दूर करने के लिए और नेचुरल स्क्रब के रुप में राई का इस्तेमाल लाभकारी होता है।

[ये भी पढ़ें: Remedies for tailbone pain: टेलबोन में होने वाले दर्द के लिए घरेलू उपचार]

इस प्रकार राई की मदद से कुछ घरेलू उपचार किए जा सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "