Remedies for itchy feet: पैरों में खुजली की समस्या दूर करने के लिए घरेलू उपचार

Read in English
Remedies to Soothe Itching Feet

Remedies for itchy feet: पैरों की खुजली कैसे दूर करें

Remedies for itchy feet: पैरों में खुलजी ज्यादातर फंगल इंफेक्शन के कारण होता है। यह टिनिया पेडिस नामक फंगस की वजह से होता है। यह फंगस त्वचा और नाखूनों को प्रभावित करते हैं। खुजली के साथ-साथ रूखी त्वचा, जलन और फटी एड़ियों जैसी समस्या भी होती है। यह समस्या अधिकतर पैरों के अंगूठें में होता है, लेकिन साथ ही नाखूनों और तलवों पर भी होता है। टिनिया पेडिस मॉइश्चर की वजह से होता है। पसीने वाले मोजे या फिर पैरों को अच्छी तरह ड्राई नहीं करने की वजह से पैरों में खुजली होती है। सही समय पर इस समस्या को ठीक नहीं करने की वजह से ब्लिस्टर हो सकता है। पैर में खुजली की समस्या से निजात पाने के लिए आप कुछ घरेलू उपचारों की मदद ले सकते हैं और इन उपचारों का त्वचा पर कोई नुकसान भी नहीं होता है। [ये भी पढ़ें: activated charcoal uses: एक्टिवेटेड चारकोल का उपयोग किन घरेलू उपायों में करना फायदेमंद होता है]

Remedies for itchy feet: घरेलू उपचार जिनकी मदद से पैरों में खुजली की समस्या होती है

  • नमक
  • दही
  • विनेगर
  • लहसुन

नमक:
नमक में कई तरीके के केमिकल होते हैं जो पैरों के फंगस को नष्ट करते हैं और खुजली की समस्या को दूर करते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें: एक टब में गुनगुना पानी डालें और उसमें नमक मिलाएं। अब पैरों को 10-15 मिनट तक उसमें डालकर छोड़ दें और फिर तौलिए से पोछ लें। इस प्रक्रिया को सप्ताह में 3-4 बार जरूर करें।

दही:

Yogurt for Itchy feet
Remedies for itchy feet: दही पैरों की खुजली को कम करता है

दही में मौजूद गुड बैक्टीरिया होता है जो इंफेक्शन को ठीक करता है और फंगस को दूर करता है।
कैसे इस्तेमाल करें: दही को प्रभावित हिस्से पर लगाकर 20 मिनट तक छोड़ दें और फिर धो लें और तौलिए से साफ कर लें। इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।

विनेगर:
विनेगर में एंटीसेप्टिक होता है जो फंगल इंफेक्शन को बेहतर करता है और मॉइश्चर को भी अवशोषित करता है। कैसे इस्तेमाल करें: टब में गुनगुना पानी लें और उसमें 1 चम्मच विनेगर मिलाएं और पैरों को उसमें डालकर 15 मिनट तक छोड़ दें। फिर तौलिए से साफ कर लें। बेहतर परिणाम के लिए सप्ताह में 2 बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

लहसुन:
लहसुन में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होता है जो पैरों के सूजन और इंफेक्शन को कम करता है।
कैसे इस्तेमाल करें: लहसुन का पेस्ट बनाएं और उसमें 3-4 चम्मच जैतून का तेल मिला लें। इस मिश्रण को प्रभावित हिस्से पर लगाएं और 30 मिनट तक छोड़ दें। अब एंटीफंगल साबून से पैरों को धो लें, फिर तौलिए से साफ कर लें। इस प्रक्रिया को रोजाना करें। [ये भी पढ़ें: Fingernail Health: लहसून और नींबू की मदद से नाखून को कैसे मजबूत बनाएं]

पैरों में होने वाली खुजली को दूर करने के लिए आप कुछ आसान घरेलू उपचारों की मदद ले सकते हैं क्योंकि यह पैरों को नुकसान भी नहीं पहुंचाता है।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "