किडनी में पथरी के दर्द से राहत पाने के लिए घरेलू उपचार

Read in English
effective home remedies for kidney stone pain

किडनी में पथरी होना काफी कष्टदायी स्थिति होती है। इसके दौरान होने वाला दर्द आपको परेशान कर देता है। किडनी में पथरी होने की समस्या 30-40 की उम्र में काफी आम है। यह समस्या किडनी में मिनरल्स के अधिक जम जाने के कारण होती है जो कि एक छोटे से पत्थर का रुप ले लेते हैं। यूरिक एसिड, फॉस्फोरस, कैल्शियम, और ऑक्सालिक एसिड आदि मिनरल्स की अधिक मात्रा के कारण पथरी के बनने की संभावनाएं होती हैं। ये तत्व यूरिन में मौजूद होते हैं लेकिन कुछ स्थितियों में हमारा शरीर इन्हें बाहर निकालने में असमर्थ होता है जिससे ये एक साथ मिलकर एक स्टोन का रुप ले लेते हैं। किडनी स्टोन के दौरान आपको कमर के निचले हिस्से में रीढ़ के दोनों तरफ दर्द होता है। इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू उपचारों की मदद ले सकते हैं। [ये भी पढ़ें: शुष्क आँखों के लिए घरेलू उपचार]

गर्म सिकाई
अगर आपको कमर के निचले हिस्से में बहुत अधिक दर्द हो रहा है तो आप प्रभावित हिस्से में गर्म सिकाई कर सकते हैं। इसे करते वक्त ध्यान रखें कि कम्प्रेस को सही पोजीशन में रखें। इसके अलावा दर्द को कम करने के लिए आप हॉट बाथ भी ले सकते हैं।

तुलसी
किडनी में पथरी के दौरान होने वाले दर्द से राहत दिलाने के लिए तुलसी कारगर है। इसका इस्तेमाल के लिए एक बड़ा चम्मच तुलसी का जूस और शहद एक गिलास पानी में मिलाएं और इसका सेवन करें। [ये भी पढ़ें: वजन बढ़ाने के लिए उपयोगी घरेलू उपाय]

पानी पिएं
किडनी में पथरी की समस्या से राहत दिलाने के लिए पानी सबसे प्रभावी उपचार है। यह किडनी में पथरी को घुलने में मदद करता है जिससे यह आसानी से निकल जाएं। इसलिए दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी जरुर पिएं।

ग्रीन टी
एक चम्मच ग्रीन टी को एक कप पानी में उबाल कर छान लें और इसका सेवन करें। दिन में 2 कप ग्रीन टी का सेवन करें। ग्रीन टी में ड्यूरेटिक प्रोपर्टीज होती हैं जो कि किडनी की पथरी को घोलने में मदद करती हैं और पथरी के दर्द को कम करती है।

नींबू पानी
एक गिलास पानी में आधा नींबू निचोड़ कर इसमें थोड़ा शहद मिला लें। इसका सेवन दिन में दो बार करें। एक बार सुबह में खाली पेट इसका सेवन जरुर करें। नींबू में सिट्रस और एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो किडनी में मौजूद पथरी को डिजॉल्व करने में मदद करता है। साथ ही नींबू पानी शरीर को डिटॉक्सीफाई करता है। [ये भी पढ़ें: सफेद दातों के लिए घर पर ही बनाएं चारकोल टूथपेस्ट]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "