हड्डी में फ्रेक्चर(Bone Fracture) को ठीक करने के लिए घरेलू उपचार

Read in English
remedies for healing bone fracture

हड्डी में फ्रेक्चर(Bone Fracture) होने पर कुछ घरेलू उपायों की मदद से दर्द को दूर किया जा सकता है।

एक्टिडेंट या चोट लग जाने की वजह से कई बार हड्डी टूट जाती है। जिसकी वजह से बहुत दर्द होता है। फ्रेक्चर होने पर आपको सबसे पहले डॉक्टर के पास जाना चाहिए। ताकि इसका सही तरीके से इलाज किया जा सके। हड्डी में फ्रेक्चर(Bone Fracture) होने पर दर्द. सूजन और फ्रेक्चर वाले अंग के मूवमेंट(Movement) में दिक्कत होती है। इस सभी समस्याओं को दूर करने के लिए कई उपाय अपनाए जा सकते हैं। इसके लिए कुछ घरेलू उपायों की मदद ली जा सकती है जो काफी प्रभावी होता हैं। तो आइए आपको उन घरेलू उपायों के बारे में बताते हैं जो हड्डी में फ्रेक्चर होने पर दर्द को कम करने में मदद करते हैं। [ये भी पढ़ें: पैर की हड्डी टूट जाने पर घायल व्यक्ति को कैसे दें प्राथमिक उपचार]

हड्डी के फ्रेक्चर(Bone Fracture) को ठीक करने के उपाय

हल्दी
अनानास
कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ
बर्फ लगाएं
सरसों का तेल

हल्दी:

remedies for healing bone fractures
हल्दी(Turmeric) की मदद से हड्डी में फ्रेक्चर(Bone Fracture) के दर्द को कम किया जा सकता है।

हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं फ्रेक्चर के दौरान होने वाले दर्द को दूर करने मे हल्दी बहुत फायदेमंद होती है। इसका सेवन कई तरह से किया जा सकता है। आप हल्दी वाला दूध या हल्दी प्याज के पेस्ट को 1-2 दिन तक फ्रेक्चर वाले क्षेत्र में लगा सकते हैं। [ये भी पढ़ें: इन सेहतमंद फायदों के लिए करें हल्दी का सेवन]

अनानास:

remedies for healing bone fractures
अनानास(Pineapple) हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

अनानास ब्रोमेलिन नामक एंजाइम का उच्च स्त्रोत होता है जो हड्डी में फ्रेक्चर के दौरान होने वाली सूजन और इंफेक्शन को कम करने में मदद करता है। इसके लिए अनानास का सेवन रोजाना करें। ताजा अनानास ही खाएं इसके जूस का सेवन ना करें। [ये भी पढ़ें: अनानास के सेवन से आपको हो सकते हैं कई स्वास्थ्य लाभ]

कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ: सभी को पता होता है कि कैल्शियम हड्डियों के ब्लॉक बनाने में मदद करता है। यह मिनरल हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। जब भी हड्डी में फ्रेक्चर हो तो कोशिश करें कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन बढ़ा दें। डेयरी प्रोडक्ट, हरी सब्जियां कैल्शियम के स्त्रोत हैं। [ये भी पढ़ें: डेयरी उत्पादों को दूषित होने से कैसे बचाएं]

बर्फ लगाएं: 2-3 आइस क्यून को एक साफ कपड़े में लपेट लें। दर्द को दूर करने के लिए इस कपड़े को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। इससे दर्द के साथ सूजन भी कम होती है। इस प्रक्रिया को दिन में 3-4 बार करें। ध्यान रहें कि बर्फ को सीधे प्रभावित क्षेत्र पर ना लगाएं इससे जलन हो सकती है।

सरसों का तेल:

remedies for healing bone fractures
सरसों के तेल(Mustard oil) में मौजूद गुण दर्द को दूर करने में मददगार होते हैं।

सरसों के तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में मदद करते हैं। इसका इस्तेमाल करने के लिए सरसों के तेल को गर्म करके उससे प्रभावित क्षेत्र पर मसाज करें। सरसों के तेल से हीट उत्पादित होती है जो दर्द को कम करने में मदद करता है। इस प्रक्रिया को दिन में 2-3 बार अपनाएं।

[जरुर पढ़ें: आपकी हड्डियों के कमजोर होने के कारण]

हड्डी में फ्रेक्चर होने पर उसे ठीक होने में समय लगता है। इस दौरान दर्द और सूजन की समस्या होती है। इसे घरेलू उपायों से ठीक किया जा सकता है। इस आर्टिकल को इंग्लिश(English) में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "