जानिए लहसुन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में

Read in English
What are the side effects of garlic

बहुत सालों से लहसुन का इस्तेमाल रसोई में किया जाता है। लहसुन का इस्तेमाल खाने को स्वादिष्ट बनाने से लेकर कई बीमारियों को दूर करने में किया जाता है। हम सभी बहुत सी बीमारियों को दूर करने के लिए लहसुन का इस्तेमाल करते हैं। इसका एक गुण यह भी है कि लहसुन का पौधा किसी भी कीटाणु से प्रभावित नहीं होता है। साथ ही बहुत सी बीमारियों की रोकथाम भी करता है। पर क्या आपको पता है लहसुन के साइड इफेक्ट(दुष्प्रभाव)भी होते हैं? जी हां लहसुन के साइड इफेक्ट भी होते हैं। तो आइए आपको लहसुन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: लहसुन है स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर]

1-लीवर को प्रभावित करता है: लीवर शरीर का महत्वपूर्ण अंग होता है। जिसमें कोई परेशानी होने से मनुष्य को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लहसुन का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से लीवर की समस्या होने का खतरा रहता है। एक स्टडी के मुताबिक लहसुन में उच्च मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं जिसकी वजह से ज्यादा मात्रा में लहसुन का सेवन करने से लीवर में विषाक्त पदार्थ एकत्रित हो जाते हैं।

2-बदबूदार सांसे:
what are the side effects of garlicलहसुन का सेवन करने से बदबूदार सांस की समस्या होती है। कुछ विशेषज्ञों के मुताबिक लहसुन में कुछ केमिकल होते हैं जिसकी वजह से मुंह से बदबू आती है। लहसुन में मौजूद सल्फ्यूरिक यौगिक की वजह से मुंह से बदबू आती है। लहसुन से आपके मुंह में रोगाणुओं को प्रोत्साहित करता है जिसकी वजह से मुंह से बदबू आने लगती है। [ये भी पढ़ें: अदरक के वो फायदे जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे]

3-उल्टी, जी मिचलाना और जी जलना: एक स्टडी के मुताबिक खाली पेट लहसुन या उसके तेल का सेवन करने से उल्टी, जी जलना, जी मिचलाना जैसी समस्या होती हैं। साथ ही लहसुन का सेवन करने से जीईआरडी(गैस्ट्रोएसोफैगल रिफ्लक्स डिजीज) होने का खतरा रहता है।

4-रक्तस्त्राव बढ़ाता है: लहसुन के सेवन से ब्लीडिंग ज्यादा होने का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप खून को पतला करने की दवाईयों का सेवन कर रहे हैं तो उस समय लहसुन का सेवन करना बंद कर देना चाहिए। यह खासकर तब होता है जब आप ताजे लहसुन का सेवन करते हैं। साथ ही यह ब्लड प्रेशर के लेवल को कम ज्यादा कर सकता है।

5-एक्जिमा: एक्जिमा एक त्वचा संबंधि समस्या होती है। जिसमें त्वचा पर लाल निशान हो जाते हैं। लहसुन का लंबे समय से सेवन करने से त्वचा पर जलन जैसी समस्या हो सकती है। एक स्टडी के मुताबिक लहसुन में एलियिन लाइसे एंजाइम होता है। जिसकी वजह से त्वचा पर जलन होती है। एक्जिमा भी एक एलर्जी की अवस्था है।

6-दृष्टि में बदलाव करता है:ज्यादा मात्रा में लहसुन का सेवन करने से हाइफेमा जैसी समस्या होने का खतरा रहता है। जिसमें आंख के अंदर चैम्बर से ब्लीडिंग होती है। ज्यादा मात्रा में लहसुन का सेवन करने से हाइफेमा की समस्या बदतर हो जाती है। हाइफेमा से हमेशा के लिए दृष्टि जाने का खतरा रहता है।

7-सिरदर्द:
what are the side effects of garlicजब कच्चे लहसुन का सेवन किया जाता है यह माइग्रेन का ट्रिगर होता है। लहसुन का सेवन करने से यह न्यूरोपेप्टाइड नामक न्यूरोनल सिग्नलिंग अणुओं को रिलीज करने के लिए मस्तिष्क को उत्तेजित करता है। जिसकी वजह से सिरदर्द होता है। [ये भी पढ़ें: जानें हल्दी के सेवन से होने वाले दुष्प्रभाव]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "