फूड पॉइजनिंग और पाचन से संबंधित समस्या को दूर करने के लिए मददगार है तुलसी

tulsi helps to treat food poisoning & digestive disorder

photo credit: herbsnatura.com

फूड पॉइजनिंग की समस्या चिपचिपे मौसम में होती है क्योंकि इस समय में जीवाणु हर जगह फैले रहते हैं। किसी भी फूड को बाहर से खरीदकर बिना धोएं खाने से फूड पॉइडनिंग की समस्या होती है। क्योंकि बाहर हर जगह कीटाणु होते हैं। फूड पॉइजनिंग के लिए तुलसी सबसे अच्छा उपाय है क्योंकि इसमें एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो माइक्रोब्स को नष्ट करते हैं। इससे पाचन संबंधित समस्या डायरिया से रोकथाम होती है। पाचन संबंधित समस्या बाउल मूवमेंट के धीमा होने के कारण होती है। तुलसी पेट साफ करने में भी मदद करती है। फूड पॉइजनिंग और पाचन संबंधित समस्या के लिए तुलसी का इस्तेमाल कई तरीके से किया जा सकता है। तो आइए आपको इन प्रभावी तरीकों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: तुलसी के पत्तों से करें प्राकृतिक रुप से खांसी का इलाज]

तुलसी जूस: वैसे तो तुलसी का जूस आसानी से बाजार में मिल जाता है लेकिन अगर आप इसे घर पर बनाएं तो ज्यादा बेहतर होता है।
इसे बनाने के लिए काफी सारी तुलसी की पत्तियां और 1 चम्मच शहद लें। तुलसी की पत्तियों को अच्छी तरह धोकर इसके बाद इन्हें क्रश करके इनका जूस निकाल लें। अब 1 चम्मच तुलसी के जूस में 1 चम्मच शहद मिलाकर पिएं। इस तरह से दिन में 2-3 बार पिएं।

तुलसी की पत्तियों का पेस्ट: तुलसी की पत्तियों के पेस्ट का सेवन करने से इसमें मौजूद पोषक तत्व मिलते हैं। इसके लिए कुछ ताजी तुलसी की पत्तियां, एक कप दही, चुटकी भर नमक और आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर लें।
अब इसे बनाने के लिए तुलसी की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को दही में मिलाएं उसमें थोड़ा सा नमक और काली मिर्च पाउडर मिलाएं और इसका दिन में कम से कम दो बार सेवन करें। [ये भी पढ़ें: नीम आपको कई फायदे पहुंचाता है]

तुलसी का तेल: तुलसी का तेल बनाने के लिए डेढ़ कप ताजा तुलसी की पत्तियां, तीन चौथाई कप ऑलिव ऑयल और पत्तियां उबालने के लिए एक पानी का बर्तन।
अब पानी उबालने के लिए रखें उसके बाद इसमें तुलसी की पत्तियों को डालें। इसे 30 सेकेंड तक उबालें और उसके बाद इसे छान लें। पत्तियों के सुखने के बाद ऑलिव ऑयल और सूखी हुई पत्तियों को ब्लैंड कर लें। अब इस तुलसी के तेल के 2 चम्मच को 2 लीटर पानी में मिलाएं। अब इस पानी को पूरे दिन पीते रहें। इससे पाचन की समस्या दूर हो जाएंगी। [ये भी पढ़ें: चेहरे और बालों के लिए फायदेमंद है अजवाइन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "