इन समस्याओं में मेंहदी है असरकारक हर्ब

health benefits of henna

भारत में प्राचीनकाल से ही मेंहदी का इस्तेमाल हो रहा है। मेंहदी खूबसूरती और मंगल कार्यों का भी प्रतीक है। इसका पौधा लगभग 5 से 6 फीट तक लंबा होता है। खूबसूरती बढ़ाने के साथ-साथ यह कई बीमारियों को भी ठीक करने के काम आती है। मेंहदी के पत्तों में टैनिन, वासोन, मैलिक एसिड, ग्लूकोज़, मैलिटोल और म्यूसिलेज जैसे तत्व पाए जाते हैं। यह ज़्यादातर पंजाब, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश में पाई जाती है। आइए जानते हैं मेंहदी किन समस्याओं में असरदार होता है।

1. स्किन प्रॉब्लम को ठीक करने में:
health benefits of hennaमेंहदी में टैनिन और हेनोटैनिक एसिड होता है जो आपकी त्वचा के डेड सेल्स को खत्म कर देता है। स्किन संबंधी रोगों को जड़ से ठीक करने के लिए मेंहदी के पेड़ की छाल का काढ़ा बनाकर पीना चाहिए। कम से कम 40 दिनों तक इसे लगातार पीना पड़ेगा और ध्यान रहे ऐसा करते समय आपको अपने चेहरे पर साबुन का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना होगा। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान दूध से बनी चीज़ों को ही खाना चाहिए। [ये भी पढ़ें: जानिए जीरे के स्वास्थ्यवर्धक गुण]

2. दर्द और सूजन से राहत:
मेंहदी बहुत ही ठंडी होती है, इसलिए किसी भी दर्द या जलन पर इसे लगाने से आराम मिलता है। इसे पीसकर इसके पेस्ट को सूजन वाली जगह पर भी लगा सकते हैं। हीना की पत्तियां ठंडी होती जो आपके शरीर की गर्मी को दूर भगाती है। गर्मियों में इसके पेस्ट को पैरों में लगने से लू लगने का खतरा भी कम हो जाता है।

3. डैंड्रफ से छुटकारा: 
मेंहदी से आपके डैंड्रफ और जड़ों में हो रही खुजली दूर हो जाती है। नींबू और दही एसिडिक होते हैं जो आपको इन परेशानियों से छुटकारा दिला सकते हैं और अगर इन्हें मेंहदी में डालकर इस्तेमाल करें तो यह और अधिक असरकारक होता है। डैंड्रफ के कारण आपके बाल रूखे हो जाते हैं और झड़ने भी लगते हैं। अगर आपके बाल ही नहीं रहेंगे तो आपकी खूबसूरती भी कम हो जाएगी इसलिए कम से कम सप्ताह में 1 बार बालों में मेंहदी ज़रूर लगाएं।

4. किडनी और स्टोन के लिए:
मेंहदी में मैलिक एसिड होता है जो किडनी और स्टोन के लिए फायदेमंद होता है। आधे लीटर पानी में कम से कम 50 ग्राम मेंहदी के पत्तों को पीसकर मिलाएं। फिर इसे अच्छी तरह उबाल लें, उबालने के बाद इसे छान लें और इसका सेवन करें। ऐसा करने से किडनी की बीमारियां ठीक हो जाएंगी और स्टोन भी निकल जाएंगी। इसे लगभग 1 महीने तक लगातार पिएं, आपको फर्क नज़र आने लगेगा।

5. पेट की बीमारी को दूर भगाएं:
मेंहदी में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो आपको पेट की कई परेशानियों और बीमारियों से छुटकारा दिला देंगे। मेंहदी आपको पीलिया की बीमारी से भी आराम दिलाती है। मेहंदी का सेवन करने से आपके शरीर में किसी भी तरह का साइड इफेक्ट नहीं होगा और सारी बीमारियां भी दूर हो जाएंगी। [ये भी पढ़ें: शरीर के लिए तुलसी के कई स्वास्थ्यवर्धक लाभ ]

6. जल जाने पर:
मेंहदी का लेप आपको ठंडक पहुंचाता है इसलिए जले हुए हिस्से पर मेंहदी लगाने से आराम मिलता है। ऐसा करने से जलन शांत हो जाती है और घाव भी जल्दी भर जाता है।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "