जानिए कुछ ऐसे हर्ब्स के बारें में जो आपकी आंखों को रखते हैं स्वस्थ

how herbs are beneficial to keep eye healthy

आजकल के इस तकनीकी युग में लोग अपना अधिक समय फोन, टीवी और कम्प्यूटर के सामने व्यतीत करते हैं जिसका सीधा प्रभाव उनकी आंखों पर पड़ता है। जिसके कारण बहुत सी समस्याएं उत्पन्न हो जाती है जैसे आंखों में खुजली, लालीपन, आंखों से लगातार पानी आना या रोशनी कम हो जाना। लेकिन बहुत से ऐसे हर्ब्स होते हैं जिनके सेवन से आंखों को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है और साथ ही उन कोशिकाओं की भी रक्षा करता है जो आंखों की रोशनी के लिए जिम्मेदार होते हैं। [ये भी पढ़ें: जानिए लहसुन के दुष्प्रभावों के बारे में]

हल्दी: हल्दी में कुरकुमिन नामक तत्व होता है जिसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो आंखों को स्वस्थ रखने के लिए बहुत प्रभावी होते हैं। यह शुष्क आंखों में किसी भी तरह के सिंड्रोम होने से बचाता है। साथ ही हल्दी एक ऐसा लोकप्रिय मसाला है जो आंखों के लेंस के ऑक्सीकरण को कम करके आंखों को स्वस्थ रखता है।

त्रिफला: त्रिफला आपकी आंखों की मांसपेशियों को बेहतर बनाने में मदद करता है और साथ ही आपकी दृष्टि में सुधार भी लाता है। त्रिफला में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो आंखों की रोशनी के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। यह ग्लोकोमा, मायोपिया और कन्जक्टिवाइटिस जैसी समस्या के लिए बहुत फायदेमंद होता है। त्रिफला कंप्यूटर विजन सिंड्रोम का इलाज करने में मदद करता है और कंप्यूटर या टेलीविजन उपयोग के कारण आंखों पर तनाव को भी कम करता है। [ये भी पढ़ें: जायफल में पाए जाने वाले गुणों से होते हैं यह स्वास्थ्य लाभ]

केसर: केसर में प्रचुर मात्रा में आयरन पाया जाता है जिस वजह से इसके सेवन से शरीर में ब्लड सेल्स की मात्रा बढ़ती है तथा खून साफ़ होता है। इसके अलावा यह आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है।

ब्लूबेरी: ब्लूबेरी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो आंखों को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसमें विटमिन-सी और ई भी होते हैं जो रेटिना में होने वाली सूजन को कम करता है और आंखों की रोशनी को भी बढ़ाने में मदद करता है।

जिन्कगो(जिन्कगो बिलोबा): जिन्कगो रेटिना में रक्त के प्रवाह को सुधारने में मदद करता है। एक शोध के मुताबिक ग्लोकोमा से ग्रसित लोगों की दृष्टि में सुधार होता है। यह एंटीऑक्सीडेंट भी है जो आंखों की तंत्रिकाओं की रक्षा करता है। [ये भी पढ़ें: त्रिफला से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानें]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "