दिमागी शक्ति बढ़ाने के लिए करें इन हर्ब्स का सेवन

Herbs to Improve Your Brain Power

मस्तिष्क की क्षमता का बढ़ाने के लिए लोग मेडिटेशन, ब्रेनवेव इंटरटेनमेंट, विज़ुअलाइज़ेशन और कई अन्य चीजों का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन मास्तिष्क क्षमता बढ़ाने के लिए सही आहार भी बहुत आवश्यक है। आप क्या खाते-पीते हैं उसका सीधा असर आपके दिमाग पर पड़ता है। आप उचित खान पान के जरिए अपने दिमाग की क्षमता को बढ़ा सकते हैं। कुछ खास हर्ब्स भी हैं जो आपको दिमागी तौर पर मजबूत बनाने में अपाकी मदद करते हैं। तो आइए जानते हैं ऐसे हर्ब्स के बारे में जो आपकी मेमोरी को बढ़ाने के काम आ सकते हैं। [ये भी पढ़ें: औषधीय गुणों वाले चाय जो आपके स्वास्थ्य के लिए हैं लाभदायक]

1. हल्दी:
Herbs to Improve Your Brain Powerहल्दी में एक कुरकुमिन नाम का रसायन होता है जो मेमोरी को तेज करता है और साथ ही एंटी-डिप्रेसेंट का काम भी करता है। कुरकुमिन अल्जाइमर डिजीज की समस्या को दूर करने में भी मदद करता है। यह अपने एंटीऑक्सीडेंट के गुण के कारण अल्जाइमर डिजीज की प्रगति को कम कर देता है।

2. ओरेगानो: ओरेगानो में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो मुक्त कणों को निष्क्रिय करने में अत्यधिक प्रभावी होता है। ब्रिटिश जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया है कि ओरेगानो मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ाने और मूड को नियंत्रित करने में मदद करता है। एक अध्ययन में यह बात पता चला है कि इसमें जो तत्व होते हैं वो मोनोमोना न्यूरोट्रांसमीटर के गिरावट को रोकता है, जो आपकी मनोदशा, चिंता और नींद को नियंत्रित करता है। ओरेगानो चिंता कम करने में मदद और एकाग्रता लाने में भी मदद करता है। [ये भी पढ़ें: इन सेहतमंद फायदों के लिए करें हल्दी का सेवन]

3. लौंग:
Herbs to Improve Your Brain Powerलौंग में एंटीऑक्सीडेंट गुण होता जो तनाव को कम करने में मदद करता है। इसमें फ़िनॉल तत्व होता है जो विषाक्त पदार्थ को हटाने में मदद करता है और सेलुलर हेल्थ को समर्थन करता है। लौंग का तेल मस्तिष्क को तेज करने के काम आता है और दिमाग को ऊर्जावन भी बनाता है।

4. ग्रीन-टी: ग्रीन-टी में एंटीऑक्सीडेंट के गुण शामिल होते हैं जो दिमाग को तेज करने में मदद करता है। यह तत्व शरीर में प्रोटीन और लिपिड की रक्षा के लिए जाना जाता है और इस प्रकार मस्तिष्क में नसों को निष्क्रिय होने से रोकता है। हर दिन 2-3 कप ग्रीन-टी आपको डिमेंशिया से दूर रखने में मदद करता है और आपके दिमाग को भी तेज करता है।

5. काली मिर्च:
काली मिर्च और अन्य पौधों में एक तत्व होता है जिसे पीपरिन कहा जाता है जो मस्तिष्क में बीटा एंडोर्फिन को बढ़ाता है और संज्ञानात्मक कार्य को बढ़ाने में भी मदद करता है। बीटा-एंडोर्फिन में न्यूरोट्रांसमीटर के गुण होते हैं जो आपके मूड को सुधारता है। इसमें पाए जाने वाला तत्व सेरेटोनिन को बनने से रोकता है। इस प्रकार, यह माना जाता है कि काली मिर्च मूड डिसऑर्डर के इलाज में मददगार साबित होता है। 

6. दालचीनी: अल्जाइमर डिजीज के जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि दालचीनी में जो तत्व होते हैं वो अल्जाइमर डिजीज को दूर करने में मदद करते हैं। सिनामाल्डिहाइड और एपिटेकाटेचिन टौ प्रोटीन के एकत्रीकरण को रोकता है। टौ प्रोटीन माइक्रोट्यूबुल्स को स्थिर करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। दालचीनी मस्तिष्क की कोशिकाओं के सूजन को रोकने में मदद करता है, जिससे स्ट्रोक से संबंधित जटिलताएं कम होती है। [ये भी पढ़ें: जानिए जीरे के स्वास्थ्यवर्धक गुण]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "