लेमनग्रास के सेवन से होने वाले फायदे

health benefits of lemongrass

photo credit- xcar.com

लेमनग्रास एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व होता है जिसके कई स्वास्थ लाभ होते हैं। यह विटामिन ए, बी, सी और फोलेट का अच्छा स्त्रोत होता है। इसमें मौजूद पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम आयरन शरीर के स्वस्थ काम करने के लिए जरुरी होते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, फिनोलिक यौगिक शरीर में होने वाली कई बीमारियों को दूर करने में दवाईयों की तरह काम करते हैं। लेमनग्रास का मुख्य तत्व लेमोनल या सिट्रल होता है। जिसमें एंटीफंगल और एंटी माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं। लेमनग्रास स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होती है। तो आइए आपको इसके फायदों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: अश्वगंधा के स्वास्थ्य लाभ]

1-कोलेस्ट्रॉल: लेमनग्रास में एंटीहाइपरलिपिडेमिक और एंटी-हाइपरकोलेस्ट्रोलेमल गुण होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के लेवल को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। एक स्टडी के मुताबिक प्रतिदिन लेमनग्रास का सेवन करने से ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर ठीक रहता है और शरीर से एलडीएल(लो डेनसिटी लिपोप्रोटीन) कोलेस्ट्रॉल को शरीर से कम करने में मदद करता है।

2-डिटॉक्सीफिकेशन: लेमनग्रास शरीर में मौजूद मौजूद डाइयुरेटिक गुण से हानिकारक विषाक्त पदार्थ निकालने में मदद करती है। शरीर से विषाक्त पदार्थ निकल जाने के बाद शरीर के अंग अच्छी तरह काम करते हैं। जो शरीर में यूरिक एसिड के लेवल को कम करने में मदद करते हैं। लेमनग्रास में मौजूद डाइयुरेटिक गुण की वजह से पेशाब जाने की आवृत्ति को बढ़ जाती है जिससे शरीर से विषाक्त पदार्थ पेशाब के माध्यम से बाहर निकल जाते हैं। इससे आपका पाचन स्वास्थ्य ठीक रहता है। [ये भी पढ़ें: जड़ी बूटियों के इस्तेमाल से पाएं धूम्रपान की लत से छुटकारा]

3- पेट की समस्या: एक स्टडी के मुताबिक लेमनग्रास एसेंशियल ऑइल में एंटी-माइक्रोबियल और एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो पेट में होने वाले इंफेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं। यह पाचन तंत्र को सुधारने, गैस्ट्रोइन्टेस्टनल डिसऑर्डर जैसे अल्सर से रोकथाम में मदद करते हैं। लेमनग्रास कब्ज की समस्या को दूर करने में भी मदद करती है।

4-त्वचा की देखभाल: लेमनग्रास में मौजूद एंटी-सेप्टिक और एस्ट्रिन्जन्ट गुण के कारण यह त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होती है। यह ऑइली त्वचा के लिए बहुत अच्छे क्लिंजर की तरह काम करता है और त्वचा से मुंहासे हटाने में मदद करता है।

5-शरीर की बदबू: लेमनग्रास का इस्तेमाल डियोड्रेंट बनाने में किया जाता है। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल शरीर से आने वाली बदबू को दूर करने में मदद करते हैं, साथ ही फंगल और बैक्टीरियल इंफेक्शन से रोकथाम करता है।

6-इम्यून सिस्टम: लेमनग्रास पाचन, श्वसन, उत्सर्जन और तंत्रिका तंत्र को ठीक रखने में मदद करती है। यह शरीर को पोषक तत्व अवशोषित करने में मदद करते हैं जिससे इम्यून सिस्टम को मजबूती मिलती है। लेमनग्रास के सत्तव का साइटोकिंस पर लाभकारी प्रभाव होता है जो संकेत देने वाले अणु होते हैं जिसके माध्यम से कोशिकाएं शरीर में संचार करती हैं और उनका जवाब देती हैं। [ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याओं में कारगर है अजवाइन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "