सेहत के लिए फायदेमंद है हल्दी की चाय

Read in English
amazing health benefits of turmeric tea

हल्दी युक्त चाय(टर्मरिक-टी) में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते हैं। हल्दी में कुरकुमिन नामक तत्व होता है जिसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो आपके शरीर में होने वाले संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। औषधीय गुणों के कारण हल्दी वाली चाय बाकि अन्य चाय की तुलना में काफी प्रभावी होते हैं। हल्दी वाली चाय के नियमित सेवन से आप कई तरह की समस्याओं में राहत पा सकते हैं। आइए जानते हैं हल्दी वाली चाय के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में। [ये भी पढ़ें: हींग के सेवन से हो सकते हैं ये चमत्कारी फायदे]

1. अर्थराइटिस(गठिया) के लिए: हल्दी वाली चाय में एंटी-एंटीइंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो गठिया की समस्या से ग्रसित लोगों में सूजन कम करने में मदद करते है। यह गठिया के लक्षणों को कम करता है। एक अध्ययन में पाया गया कि हल्दी में पाया जाने वाला कुरकुमिन ऑस्टियोअर्थराइटिस रोगियों में दर्द कम करने में काफी प्रभावी होता है।

2. अल्जाइमर डीजिज: हालांकि अनुसंधान में अभी तक अल्जाइमर डीजिज का कारण नहीं पता चल पाया है, लेकिन हल्दी में पाए जाने वाला कुरकुमिन इस बीमारी को रोकने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण अल्जाइमर के कारण होने वाली क्षति को रोकता है, जिससे आपकी याददाश्त ठीक रहता है। [ये भी पढ़े: औषधीय गुणों वाले चाय जो आपके स्वास्थ्य के लिए हैं लाभदायक]

3. इम्यून सिस्टम(प्रतिरक्षा प्रणाली) को मजबूत करने के लिए: हल्दी वाली चाय में एंटी-फंगल, एंटीइंफ्लेमेट्री और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली की कार्य क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। एक अध्ययन से पता चला है कि हल्दी प्रतिरक्षा प्रणाली को नियंत्रित कर सकता है।

4. कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करने के लिए: हल्दी वाली चाय में एंटीकार्मेटिव और एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो एलडीएल(लो-डेंसिटी लीपोप्रोटीन) कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखता है, जिससे हृदय रोग और स्ट्रोक जैसी गंभीर बीमारी के घतरे को कम करने में मदद करता है। ऐसा साबित हुआ है कि हल्दी वाली चाय कोलेस्टॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। 2008 के एक अध्ययन में पाया गया कि कुरकुमिन एलडीएल और कोलेस्ट्रॉल के स्तर से जुड़ा हुआ होता है।

5. आंखों के लिए: हल्दी वाली चाय कई में आवश्यक विटामिन होते हैं जैसे पीरिडॉक्सिन (विटामिन बी 6), कोलिन, नियासिन, और राइबोफ्लेविन जो आंखों को स्वस्थ रखता है और रोशनी बढ़ाने में भी मदद करता है। इसमें पाए जाने वाला पोषक तत्व आंखों में होने वाले इंफेक्शन से भी बचाता है।

6. वजन नियंत्रित रखने के लिए: हल्दी वाली चाय पीना वजन को नियंत्रित रखने में मदद करने का एक शानदार तरीका है। हल्दी में कुरकुमिन नामक पाया जाता है, जो शरीर की फैट को कम करता है और मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है। यह शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को संतुलित रखने में भी मदद करता है, जो वजन बढ़ने और घटाने में सहायता करता है। इसके अलावा हल्दी वाली चाय शरीर से विषाक्त पदार्थ निकालने में मदद करती है। [ये भी पढ़े: दिमागी शक्ति बढ़ाने के लिए करें इन हर्ब्स का सेवन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "