ब्लैक कॉफी के सेवन से होते हैं कई दुष्प्रभाव

Read in English
side effects of drinking black coffee

लोग अपने दिन की शुरुआत एक कप ब्लैक कॉफी से करना पसंद करते हैं। ब्लैक कॉफी के सेवन से आपको कैफीन मिलती है जो दिन की शुरुआत करने में मदद करती है। कॉफी का सेवन से आपको तुरंत ऊर्जा मिलती है लेकिन कुछ समय बाद यह कम हो जाती है। इसलिए इसका सेवन करने से पहले इससे होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में जानना जरुरी होता है। ब्लैक कॉफी में मौजूद कैफीन का आपके शरीर पर प्रभाव पड़ता है तो आइए आपको इससे होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: ब्लैक कॉफी का सेवन भी होता है स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है]

सीने में जलन: ग्रासनली में मौजूद मांसपेशियां जो नीचे की तरफ होती हैं उनके रिलेक्स होने की वजह से सीने में जलन की समस्या होती है। जब आप कुछ खाते हैं तो पेट में यह जाने के बाद यह मसल्स टाइट जो जाती हैं ताकि खाना वापिस ऊपर की तरफ ना आए और सीने में जलन ना हो। लेकिन ब्लैक कॉफी इन मसल्स को ढीला कर देती हैं जिससे यह एसिड ऊपर की तरफ आ जाता है और सीने में जलन की समस्या होती है।

मिनरल अवशोषित करने में समस्या: जो लोग ज्यादा मात्रा में कॉफी का सेवन करते हैं उन्हें अधिक मात्रा में पोषक तत्वों का सेवन करने के बाद भी उन्हें अवशोषित करने में परेशानी होती है। ऐसा कॉफी के आयरन के अवशोषित करने की क्षमता के प्रभावित होने के कारण होता है। पेट में आयरन के अवशोषित करने की क्षमता प्रभालवित होने से किडनी को भी जिंक, कैल्शियम और अन्य महत्वपूर्ण मिनरल के अवशोषित करने में समस्या होती है। यह सभी स्वस्थ रहने के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। [ये भी पढ़ें: ड्रिंक्स जो आपके शरीर से सुस्ती दूर रखने में करती हैं मदद]

तनाव: बहुत से लोग तनाव को कम करने के लिए ब्लैक कॉफी का सेवन करते हैं लेकिन जब आप कॉफी का सेवन करते हैं तो कोर्टिसोल, नोरेपेनेफ्रिन और एपिनेफ्रीन का उत्पादन बढ़ जाता है। यह सभी तनाव को बढ़ाने वाले हार्मोन्स होते हैं। इसके साथ ही इससे चिंता भी बढ़ने लगती है जिससे शांत रहने में परेशानी होती है।

एसिडिटी: ब्लैक कॉफी में अत्यधिक मात्रा में कैफीन और एसिड होता है। यह दोनों चीजें पेट के लिए हानिकारक होते हैं। यह छोटी आंत की लाइनिंग पर भी प्रभाव डालती है जिसकी वजह से पेट में क्रैंप होते हैं। ब्लैक कॉफी के सेवन से पेट में एसिड अधिक मात्रा में बनने लगता है। जिससे एसिडिटी की समस्या होती है। [ये भी पढ़ें: कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करने में मददगार हैं हेल्दी ड्रिंक्स]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "