सेहत के लिए लाभकारी डिटॉक्स वाटर घर पर कैसे बनाएं

Read in English
How to Make your Own Detox Water at home

डिटॉक्स वाटर सेहत के लिए लाभकारी होता है। डिटॉक्स वाटर पीने से शरीर टॉक्सिन्स रहित तो हो ही जाता है साथ ही यह आपके पाचन तंत्र के लिए भी लाभकारी होता है। वजन कम करने के लिए, पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाने के लिए, लिवर को स्वस्थ रखने के लिए, सूजन को कम करने के लिए, त्वचा को खूबसूरत बनाने के लिए और एनर्जी बूस्ट करने के लिए डिटॉक्स वाटर का सेवन करना उपयोगी होता है। आप घर पर ही डिटॉक्स वाटर बना सकते हैं जो कि सेहत के लिए उपयोगी और सुरक्षित होते हैं। आइए जानते हैं कि घर पर डिटॉक्स वाटर कैसे बना सकते हैं।[ये भी पढें: गर्मियों से राहत दिलाने के लिए मॉकटेल ड्रिंक्स]

1. अनानास और नींबू:  अनानास और नींबू का डिटॉक्स एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। अनानास फैट कटर होता है इसलिए यह फैट कम करने में मदद करता है। अनानास -नींबू डिटॉक्स बनाने के लिए अनानास  और नींबू को बारीक काट लें। अब एक जार में इन्हें डालकर पुदीने के पत्ते और बर्फ के टुकड़ें डालें और जार में पानी भर दें। फ्रिज में 4 घंटे रखने के बाद इसे पी सकते हैं।

2.स्ट्रॉबरी-किवी: स्ट्रॉबरी और किवी का डिटॉक्स विटामिन्स और पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह शरीर को पर्याप्त मात्रा में न्यूट्रिशन देता है और टॉक्सिन्स को निकालने में प्रभावी होता है। स्ट्रॉबरी-किवी डिटॉक्स बनाने के लिए स्ट्रॉबरी और किवी को बारीक काट लें। अब एक जार में पुदीने के पत्ते और बर्फ के टुकड़ें डालें और जार में पानी भर दें। फ्रिज में 6 घंटे रखने के बाद इसे पी सकते हैं।[ये भी पढें: वर्कआउट के दौरान कौन से पेय पदार्थों का सेवन करना चाहिए]

3. खीरा-संतरा: संतरा विटामिन सी से भरपूर होता है तो वहीं खीरा शरीर को हाइड्रेट रखता है। इसलिए खीरे और संतरे से बना डिटॉक्स शरीर को टॉक्सिन रहित बनाने के लिए उपयोगी होता है और बीमारियों से भी रक्षा करता है। खीरा और पुदीने को काटकर एक कांच के जार में डालें अब इसमें संतरे के टुकड़ें डालकर जार में पानी भर दें। फ्रिज में 2 घंटे रखने के बाद इसे पी सकते हैं।

4.तरबूज- खीरा: तरबूज पानी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है इसलिए यह डिटॉक्स शरीर को टॉक्सिन्स रहित करने के साथ-साथ पाचन तंत्र के लिए भी उपयोगी होता है। इसे बनाने के लिए तरबूज और खीरे को काटकर एक कांच के जार में डालें। अब इसमें पुदीना डालकर जार में पानी भर दें। फ्रीज में 4 घंटे रखने के बाद इसे पी सकते हैं।[ये भी पढ़ें: पानी में नींबू उबाल कर पीने के फायदे]

 

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "