कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करने में मददगार हैं हेल्दी ड्रिंक्स

Read in English
healthy drinks to lower the level of cholesterol

कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ा होना हृदय के लिए खतरा हो सकता है। हमारे शरीर में दो तरह का कोलेस्ट्रॉल होता है। एक लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (एलडीएल) और दूसरा हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन (एचडीएल)। हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन सही डाइट का सेवन ना करने की वजह से हानिकारक कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाता है। अगर आप अपने कोलेस्ट्रॉल का लेवल निंयत्रित रखना चाहते हैं तो उसके लिए कुछ हेल्दी ड्रिंक्स का सेवन किया जा सकता है। इन ड्रिंक्स को आप अपने डाइट प्लान में शामिल कर सकते हैं। जिससे कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करने में मदद मिलेगी। तो आइए आपको इन ड्रिंक्स के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: गाय का दूध पीने से होने वाले फायदे]

ग्रीन टी:
कई लोग वजन कम करने और स्वस्थ रहने के लिए ग्रीन टी का सेवन करते हैं। पर क्या आपको पता है ग्रीन टी हृदय को भी स्वस्थ रखने में मदद करती हैं। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करके ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित रखने में मदद करते हैं। ग्रीन टी एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने के साथ एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बूस्ट करने में मदद करती हैं। इसलिए फिट रहने के साथ हृदय को स्वस्थ रखने के लिए ग्रीन टी का सेवन करें।

बेरी जूस: बेरी के सेवन से स्वास्थ्य को कई फायदे होते हैं। बेरी जूस के सेवन से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम किया जा सकता है। बेरी के जूस में विटामिन सी, फाइबर, मैग्नीशियम और अन्य एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो इसके स्वास्थ्य लाभ बढ़ाने में मदद करते हैं। [ये भी पढ़ें: याददाश्त और एकाग्रता बढ़ाने के लिए पेय पदार्थ]

वाइन: वाइन शरीर में कोलेस्ट्रॉल केलेवल को संतुलित करने में मदद करती है। एक गिलास वाइन का सेवन हार्ट अटैक होने की संभावना को कम करने में मदद करता है। लेकिन इसका सेवन करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या ना हो जाए। इसलिए रोजाना एल्कोहल का सेवन ना करें।

संतरे का जूस:
संतरे के जूस में फॉलिक एसिड होता है जो होमोसिस्टीन के लेवल को कम करने में मदद करता है। इससे हार्ट अटैक होने की संभावना कम हो जाती है। साथ ही कोलेस्ट्रॉल का लेवल भी नियंत्रित रहता है।

अंगूर का जूस: अंगूर के जूस में प्रचुर मात्रा में फ्लेवोनॉइड और रिसर्वेट्रोल दोनों एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो लाल रक्त कोशिकाओं के धमनी के ब्लॉक होने से रोकते हैं। इसके लिए रोजाना 1 गिलास अंगूर के जूस का सेवन फायदेमंद होता है। [ये भी पढ़ें: गाजर, चुकंदर और आंवला के जूस से होने वाले स्वास्थ्यवर्धक लाभ]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "