लौंग की चाय पीने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

Health benefits of clove tea

चाय हमारे जीवन का एक अनिवार्य हिस्सा होता है। अगर आप ग्रीन-टी या ब्लैक-टी से बोर हो गए हैं तो लौंग वाली चाय आपके स्वाद को बदल सकती है। लौंग की चाय आपके स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याओं के लिए एक बेहतर विकल्प होता है। इसमें एंटीसेप्टिक और एंटीइंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो शरीर के बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद करते हैं और साथ ही शरीर को संक्रमण से भी बचाते हैं। आइए लौंग की चाय से होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में जानते हैं। [ये भी पढ़ें: करेले के जूस से होने वाले स्वास्थ्य लाभ]

अर्थराइटिस के लिए: लौंग की चाय में एनेल्जेसिक और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो अर्थराइटिस के कारण होने वाले दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। इसमें पाए जाने वाले तत्व जोड़ों के दर्द, सूजन, लिगामेंट इंजरी और मसल्स पेन से भी राहत दिलाता है।

पाचन की सहायता के लिए: पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए लौंग की चाय एक बेहतर और प्रभावी उपाय है। इसमें कार्मिनेटिव प्रॉपर्टिज होती हैं जो पेट से जुड़ी समस्या से निजात दिलाने में मदद करते हैं जैसे- पेट दर्द, कब्ज, दस्त या एसिडिटी। साथ ही साथ लौंग की चाय पेट की सूजन को भी कम करने में सहायता करता है। लौंग की चाय ब्लड फ्लो को उत्तेजित करता है और सलाइवा के प्रोडक्शन को भी बेहतर करता है जिसके कारण पाचन शक्ति बढ़ती है। [ये भी पढ़ें: खीरे का पानी आपके स्वास्थ्य को देता है ढ़ेरों लाभ]

दांत दर्द से राहत दिलाता है: लौंग की चाय में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो दांत दर्द और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। यह दांत में होने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करता हैं और दर्द और सूजन से तुरंत राहत दिलाता है। इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व दांत के प्लॉक और पीलेपन को भी दूर करने में मदद करता है।

बुखार के लिए: लौंग की चाय में मैग्नीशियम, विटामिन-ए और विटामिन-के होता है जो आपके बुखार और सर्दी-खांसी को ठीक करने में मदद करता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण भी होते हैं जो बैक्टीरियल इंफेक्शन से भी बचाता है। इसके अलावा इसमें एंटीपाइरेटिक गुण भी होते हैं जो बुखार के दौरान शरीर के तापमान को नियंत्रित रखता है।

स्किन इंफेक्शन के लिए: एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टिज होने के कारण लौंग की चाय स्किन इंफेक्शन और त्वचा संबंधी अन्य समस्या से भी राहत दिलाता है। यह शरीर से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालने में मदद करता है और घाव को भी भरता है। इसमें एंटी-फंगल गुण भी होते हैं जो त्वचा पर होने वाली फंगल इंफेक्शन से बचाता है। [ये भी पढ़ें: चुकंदर का जूस पीने से मिलने वाले फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "