पेय पदार्थ जिनका सेवन बच्चों के लिए हो सकता है हानिकारक

Drinks to avoid for children

गर्मियों में डिहाइड्रेशन होना आम समस्या होती है जिससे अपने बच्चों को बचाने के लिए उन्हें पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन करवाना जरुरी होता है। अक्सर बच्चे बार-बार पानी पीना पसंद नहीं करते और अपनी प्यास बुझाने के लिए डिब्बाबंद पेय पदार्थ, फ्रूट जूस और सोडा पीना ज्यादा पसंद करते हैं। ये पेय पदार्थ बच्चों की प्यास तो बुझा देते हैं और उन्हें थोड़ी देर ताजगी का एहसास करवाते हैं लेकिन वास्तव में ये शरीर के लिए हानिकारक होते हैं। इन पेय पदार्थों में मौजूद अतिरिक्त कलर और अतिरिक्त शुगर शरीर के लिए हानिकारक होते हैं। आइए जानते हैं कि बच्चों को किन ड्रिंक्स का सेवन नहीं करना चाहिए। [ये भी पढें: गर्मियों से राहत दिलाने के लिए मॉकटेल ड्रिंक्स]

1.सोडा: सोडा के सेवन में अतिरिक्त शुगर होता है जो कि मोटापे और टाइप-2 डायबिटीज का कारण होता है। लगभग 500 ग्राम सोडा में 60 ग्राम शुगर होता है इसलिए बच्चों को सोडा ना पिलाएं बल्कि उसकी जगह आप नींबू पानी दे सकती हैं।

2.स्पोर्ट्स ड्रिंक: लंबे समय तक वर्कआउट करने के बाद ऊर्जा की कमी को पूरा करने के लिए स्पोर्ट्स ड्रिंक का सेवन किया जाता है। बच्चे अगर इसका सेवन करते हैं तो इसमें मौजूद शुगर उनके लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए स्पोर्ट्स ड्रिंक का सेवन करवाने की बजाय बच्चों को नारियल पानी पिलाना बेहतर होता है।[ये भी पढें: वर्कआउट के दौरान कौन से पेय पदार्थों का सेवन करना चाहिए]

3.कच्चा दूध: हालांकि कच्चे दूध में पोषक तत्व पर्याप्त मात्रा में बने रहते हैं और इसमें डाइजेस्टिव एंजाइम्स भी सही मात्रा में होते हैं लेकिन बच्चों का इम्यून सिस्टम बड़े लोगों की तुलना में कमजोर होता है इसलिए कच्चा दूध पीने पर बच्चे बीमार पड़ सकते हैं। यहीं कारण है कि बच्चों को कच्चा दूध नहीं बल्कि उबालकर दूध पिलाना चाहिए।

4. एनर्जी ड्रिंक्स: एनर्जी ड्रिंक्स में पर्याप्त मात्रा में कैफीन और आर्टिफिशियल स्वीटनर होते हैं जिसे पीने से बच्चे डिहाइड्रेशन का शिकार हो सकते हैं। इसलिए इन पेय पदार्थों के सेवन की बजाय बच्चों को घर पर ही जूस बनाकर पिलाएं।

5. चाय: बच्चों को ब्लैक टी और ग्रीन टी का सेवन भी नहीं करना चाहिए। हालांकि ये चाय एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती हैं लेकिन फिर भी इनमें कैफीन होता है। इसलिए दूध वाली चाय बच्चों को कभी-कभी दे सकते हैं लेकिन बच्चों को चाय पीने की आदत नहीं डालनी चाहिए। [ये भी पढ़ें: पानी में नींबू उबाल कर पीने के फायदे]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "