Habits causing Stress: तनाव को बढ़ाने वाली आदतें

Read in English
Habits That Cause Stress and How to Avoid Them

तनाव से दूर रहने के लिए इन आदतों से दूरी बनाएं।

Habits causing Stress: तनाव हम में से हर किसी की दिनचर्या का एक हिस्सा है। थोड़ा तनाव हमें आगे बढ़ने और बेहतर करने के लिए प्रेरित करता है लेकिन अधिक तनाव हमारे स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में, हम सभी ऐसी चीजें करते हैं जो तनाव का कारण बनती हैं। ये आदतें छोटी दिखाई दे सकती हैं लेकिन हमारे तनाव पर इनका बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। इसलिए, इन्हें पहचानना और इन्हें बदलना जरुरी है ताकि आपका स्वास्थ्य ठीक रहेंन और आपर खुशहाल जीवन जी सकें। आइए जानते हैं वो आदते जिन्हें बदलने से आप अपनी जिंदगी से तनाव को कम कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत कि आप दूसरों का तनाव ले रहे हैं]

Habits causing Stress: आदतें जो आपके तनाव को बढ़ा सकती हैं

  • नाश्ता छोड़ना
  • सोशल मीडिया पर अधिक समय बिताना
  • वर्कआउट ना करना
  • सोने की अनियमित आदतें
  • काम और निजी जिंदगी को अलग ना रखना

नाश्ता छोड़ना
ज्यादातर लोग सुबह के दौरान जल्दी में होते हैं। यही कारण है कि वो या तो अस्वस्थ खाद्य पदार्थ खाते हैं या नाश्ता करते ही नहीं। यह आदत तनाव का कारण बनती है क्योंकि फैट और कार्ब्स शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए यह मानसिक तनाव पैदा करते हैं।

सोशल मीडिया पर अधिक समय बिताना

Habits That Are Actually Causing You Major Stress
सोशल मीडिया पर अधिक समय बिताने से आपको तनाव हो सकता है।

यह एक बड़ी समस्या नहीं लगती है लेकिन यह तनाव का एक प्रमुख कारण है। सोशल मीडिया अक्सर तनाव को बढ़ाने में योगदान देती है, क्योंकि आप हमेशा दिलचस्प दिखाई देने के लिए अपनी सहज दायरे से बाहर आने की कोशिश करते हैं। यह तनाव पूरी तरह से आपकी मानसिक शांति को नष्ट कर सकता है।

वर्कआउट ना करना
नियमित शारीरिक व्यायाम करने से शरीर में एंडोर्फिन हार्मोन रिलीज होते है। ये तनाव को कम करने में मदद करते हैं। हालांकि, कई लोग शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने में असफल रहते हैं। इससे आप तनाव को कम नहीं कर पाते।

सोने में अनियमितता

Habits Of Stressed-Out People
तनाव को कम करने के लिए सोने की आदत में नियमितता बनाएं।

तनाव मुक्त जीवन के लिए स्वस्थ और नियमित नींद सबसे महत्वपूर्ण है। हालांकि, काम के दबाव और व्यस्त जीवन के कारण, कई लोगों को नियमित नींद लेने में मुश्किल होती है। यह आदत तनाव के स्तर को बढ़ाती है।

काम और निजी जिंदगी को अलग ना रखना
आजकल यह लोगों की आम आदत है कि वो अपने काम को घर ले जाते है। कठिन कंपीटीशन के कारण, लोग अक्सर अपनी परफॉर्मेंस को लेकर तनाव में रहते हैं। यह आदत तनाव और चिंता को अधिक बढ़ाती हैं। नतीजतन मानसिक शांति और आराम की भावना दूर होती जाती है।

[जरुर पढ़ें: सकारात्मक रहकर तनाव दूर करने के लिए क्या करें]

ये कुछ आदतें हैं जो आपके तनाव को बढ़ाने में योगदान देती हैं। इसलिए आपको इन आदतों से पीछा छुड़ाना चाहिए। आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "