जब मेडिटेशन काम ना करे तो तनाव को कैसे कम करें

ways to reduce stress when meditation is not enough

मेडिटेशन की मदद से खुद को शारीरिक और मानसिक रुप से स्वस्थ रखा जा सकता है। मेडिटेशन कई समस्याओं को भी दूर करने में मददगार होता है। ध्यान लगाने से व्यक्ति को खुद को जानने में मदद मिलती है, साथ ही आराम मिलता है। कई लोग तनाव से ग्रसित होने पर मेडिटेशन करना शुरु कर देते हैं। मेडिटेशन की मदद से तनाव को दूर किया जा सकता है। लेकिन कभी-कभी मेडिटेशन भी आपके तनाव को कम करने में मदद नहीं कर पाता है। इस दौरान आपको कुछ चीजें करना शुरु कर देना चाहिए। यह आपको तनाव से बाहर लाने में मदद कर सकती हैं। तो आइए आपको कुछ तरीके बताते हैं जो मेडिटेशन के असर ना करने पर भी तनाव कम कर सकती हैं। [ये भी पढ़ें: टॉकिंग थेरेपी के प्रकार जो तनाव कम करने में करते हैं मदद]

बच्चों वाली हरकतें करें: अगर आपको समझ नहीं आ रहा है कि तनाव को कैसे दूर करें तो अपने बचपन को याद करें और बच्चों की तरह कलर बुक को कलर करने लगे। इसे करते समय आप कुछ बेहतर बना पाएंगे जिसकी मदद से आपको अंदर से अच्छा लगेगा। जो नकारात्मक विचारों को दूर करते हुए तनाव को कम करने में मदद करते हैं। ऐसा करने से आप अपने बचपन को दोबारा भी जी सकते हैं।

खुद से बेस्ट फ्रेंड की तरह बात करें: अगर आपको मेडिटेशन करने के बाद भी तनाव कम करने में मदद नहीं मिल रही है तो आप खुद से बात कर सकते हैं। खुद से बेस्ट फ्रेंड की तरह बात करें। जो भी सोच रहे हैं वो खुद से शेयर करें। ऐसा करने से आपके अंदर की सारी भावनाएं बाहर आ पाएंगी, जो तनाव को कम करने में मदद करेंगी। [ये भी पढ़ें: काम के दौरान खुद को तनाव से कैसे बचाएं]

सांस को महसूस करें: सांस लेना मेडिटेशन में एक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं लेकिन बिना मेडिटेशन के भी यह काफी शक्तिशाली होती है। इसलिए कुछ समय के लिए अपनी सांसों पर ध्यान दें। यह उतना ही आसान होता है जितना की ध्वनि पर ध्यान देना। इसे करते हुए सांस लें और छोड़ें। जैसा कर रहे हैं वैसा ही करें इसे ज्यादा तेज या धीरे करने की कोशिश ना करें। इससे तनाव को कम करने में मदद मिलेगी।

सोशल मीडिया की मदद लें: मेडिटेशन के असर ना करने पर आप अपने दिमाग को उलझाने के लिए सेशल मीडिया की मदद से सकते हैं। लोगों से बात करें अपनी भावनाओं को शेयर करें। ऑनलाइन वेब सीरीज देखें। यह आपके विचारों को बदलने में मदद कर सकती है। साथ ही तनाव कम करने में मदद मिलती है।

बाहर जाएं: एक ही जगह पूरे दिन रहते हुए आपके दिमाग में भी वही विचार आते रहते हैं। इसलिए घर से बाहर जाएं नए लोगों से मिलें, वॉक करें, प्रकृति के बीच अकेले समय व्यतीत करें। ऐसा करने से आपको शांति मिलेगी। ऐसा करने से तनाव और चिंता को कम करने में मदद मिलती है। [ये भी पढ़ें: तनाव कैसे आपके पाचन को प्रभावित करता है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "