तनाव पैदा करने वाले हार्मोन को कम करने के लिए अपनाएं कुछ उपाय

ways-to-beat-your-stress-hormone

Photo credit: bodyandhealth.canada.com

कोर्टिसोल तनाव को पैदा करने वाला हार्मोन है जिसके कारण आपके मन में डर, तनाव और एंग्जायटी की भावना पैदा होती है। यह हार्मोन हमारे स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डालता है। इस हार्मोन का स्तर बढ़ने से डिप्रेशन, याददाश्त कमजोर होना, दिल की बीमारियां होना और मोटापा होने जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं। तनाव को कम करने के लिए अपने शरीर में कोर्टिसोल के लेवल को कम करना जरुरी है। इसके लिए आप कुछ उपाय अपना सकते हैं। आइए जानते हैं कि कोर्टिसोल के स्तर को कम करने के लिए आप क्या-क्या उपाय कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: मुश्किल परिस्थितियों में भी कैसे बनाए रखें अपना धैर्य]

1. एक्सरसाइज: एक्सरसाइज करने से आपके शरीर में कोर्टिसोल का स्तर कम करने में मदद मिलती है। जब आप एक्सरसाइज करते हैं तो आपका शरीर एंडोर्फिन हार्मोन को स्रावित करता है। एंडोर्फिन मूड को खुश रखने वाला हार्मोन होता है। इसलिए कोर्टिसोल के स्तर को सही रखने के लिए आपको रोजाना एक्सरसाइज करना आवश्यक होता जिससे तनाव कम होने के साथ-साथ आपको अन्य स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं।

2. मेडिटेशन करें: मेडिटेशन करने दिमाग को शांत करने का और मानसिक रुप से शांति देने का काम करते हैं। ये हमारे दिमाग में सकारात्मक विचार देते पैदा करते हैं। मेडिटेशन करने से कोर्टिसोल का स्तर कम होता है। जिससे आप खुश रहते हैं। इसलिए मेडिटेशन तनाव कम करने में लाभकारी होता है और लंबे समय तक तनाव कम करता है। ‘ओम’ का उच्चारण करने से भी आपके कोर्टिसोल का स्तर 20 प्रतिशत तक कम हो जाता है।[ये भी पढ़ें: इन आसान तरीकों से खुद को करें रिलैक्स]

3.गाने सुनना: गाने सुनने से आपका तनाव कम होता है। गाने सिर्फ मन बहलाने के लिए काफी नहीं है बल्कि ये एक थैरेपी की तरह काम करते हैं जिसे म्यूजिक थैरेपी कहते हैं। म्यूजिक थैरेपी से कार्टिसोल का स्तर कम होता जाता है और आपका तनाव भी धीरे-धीरे खत्म हो जाता है।

4.रोशनी में रहें: लाइट के स्पेकट्रम कोर्टिसोल को संतुलित रखने में मदद करते हैं। सुबह की सूरज की रोशनी आपकी आंखों में पड़ने से कोर्टिसोल संतुलित होने लगते है और पूरे दिन आपको ऊर्जावान और मूड भी अच्छा रहता है। पूरे दिन प्राकृतिक रोशनी में रहने के लिए खिड़की के पास बैठें, जहां से आपको रोशनी मिलती रहे और रात को रोशनी के लिए अपने फोन में ब्लू लाइट जलाकर रखें।

5.डार्क चॉकलेट खाएं: डार्क चॉकलेट मूड को ठीक करने का एक स्वादिष्ट तरीका है। डार्क चॉकलेट में एंटी-ऑक्सीडेंट्स जैसे फ्लेवेनॉल, पॉली-फिनॉल आदि होते हैं जो ना सिर्फ ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है बल्कि कोर्टिसोल के स्तर को भी कम करता है। इसलिए आप डार्क चॉकलेट का भी सेवन कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: सुबह होने वाले सिरदर्द के पीछे हो सकते हैं ये कारण]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "