क्रोनिक फटीग सिंड्रोम के बारे में जानें कुछ जरुरी बातें

things to know about chronic fatigue syndrome

क्रोनिक फटीग सिंड्रोम (सीएफएस) एक जटिल सिंड्रोम है जिससे ग्रस्त व्यक्ति को अत्यधिक थकान होती है। इस सिंड्रोम को समझना थोड़ा मुश्किल है। इस सिंड्रोम के दौरान व्यक्ति को शारीरिक या मानसिक गतिविधियों के कारण अधिक थकान होती है लेकिन आराम करने के बाद भी इसमें सुधार नहीं होता है। क्रोनिक फटीग सिंड्रोम (सीएफएस) किन कारणों से होता है इसके बारे में अभी तक कोई स्पष्ट जानकारी डॉक्टर्स के पास नहीं है। कुछ विशेषज्ञ का मानना है कि सीएफएस वायरल इंफेक्शन्स और साइकोलॉजिकल स्ट्रेस के कारण हो सकता है। हालांकि इसकी पुष्टी नहीं हुई है। हम आपके लिए क्रोनिक फटीग के बारे में कुछ जानकारियां जुटाई है जो जानना जरुरी है। आइए जानते हैं क्या कहती है ये जानकारियां। [ये भी पढ़ें: कहीं आप खुद ही अपने मानसिक और भावनात्मक तनाव के कारण तो नहीं हैं]

सीएफएस एक दुर्लभ समस्या नहीं है: लोगों का ऐसा मानना है कि क्रोनिक फटीग सिंड्रोम (सीएफएस) बहुत ही दुर्लभ समस्या है और यह हजारों लोगों में से एक व्यक्ति को होती है लेकिन ऐसा नहीं है। सीएफएस के लक्षण बिल्कुल स्पष्ट नहीं होते हैं और इसके कारण इस समस्या का डायग्नोस नहीं हो पाता है जिसके कारण लोगों को जानकारी नहीं होती है कि वो इस सिंड्रोम का शिकार हैं।

यह एक साइकोलॉजिकल बीमारी नहीं है: यह सिंड्रोम आपके इम्यून सिस्टम में कुछ गड़बड़ी होने के कारण होता है और इसमें साइकोलॉजी से जुड़ा कोई पहलू नहीं होता है। यह कुछ शारीरिक बदलावों के कारण हो सकता है लेकिन लोग समझते हैं कि यह मानसिक असमर्थता है। हालांकि ऐसा नहीं है। [ये भी पढ़ें: आशावादी होने के क्या फायदे हैं]

क्रोनिक फटीग सिंड्रोम का कोई उपचार नही है:
things to know about chronic fatigue syndromeयह सिंड्रोम एक इन्क्यूरेबल डिसीज है और इसका कोई उपचार नहीं है। इस सिंड्रोम के दौरान आप अगर कोई शारीरिक गतिवधि करते हैं तो आपको अत्यधिक थकान हो सकती है और आप खराब स्थिति में पहुंच सकते हैं। हालांकि आराम करने से आपकी थकान नें कोई बदलाव नहीं आता है।

इस सिंड्रोम के होने के बाद भी आप स्वस्थ दिखते हैं: इस सिंड्रोम से ग्रस्त लोग आमतौर पर कोई भी गतिविधि करते वक्त सामान्य और स्वस्थ दिखाई देते हैं लेकिन उस गतिविधि को करने के लक्षण आपके शरीर में 12 से 48 घंटों बाद दिखाई देते हैं। अगर आप आज कोई मुश्किल गतिविधि कर रहे हैं तो उस वक्त आपको कोई समस्या नहीं होगी लेकिन इसके 12 से 48 घंटे बाद आप अत्यधिक थकान से पीड़ित हो सकते हैं और यह कुछ दिन या फिर सप्ताह तक रह सकती है। [ये भी पढ़ें: इन तरीकों से तनाव को दूर भगायें और अपने मूड को बेहतर बनाएं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "