इन कारणों की वजह से आपको झेलना पड़ सकता है तनाव

these are the reasons you are living a stressful life

तनाव को लोगों ने कई तरह से परिभाषित किया है और समझा है। तनाव अच्छा और बुरा दोनों तरह का हो सकता है साथ ही इसेक प्रभाव भी अच्छे और बुरे हो सकते हैं। तनाव किन कारणों से होता है, बहुत कम लोगों को ही पता है। विभिन्न लोगों में इसके अलग-अलग लक्षण और कारण होते हैं। आंकड़ो के अनुसार, विश्व के बड़े देशों में तनाव के मामलें बढ़ रहे हैं क्योंकि वहां की बढ़ती अर्थव्यवस्था में लोगों में वर्कप्लेस स्ट्रेस(काम के दौरान होने वाला तनाव) बढ़ रहा है। इन देशों में 10 में से 6 लोग वर्कप्लेस पर बढ़ते स्ट्रेस का अनुभव करते हैं। [ये भी पढ़ें: तनाव कम करने का आसान तरीका है मेडिटेशन]

तनाव के कारण: बहुत सी चीजें हैं जो आपके जीवन में तनाव को बढ़ावा दे सकती हैं। जॉब इंटरव्यू के लिये जाते वक्त, कोई टेस्ट देते वक्त, छोटी-बड़ी बीमारी या और कोई भी वजह आपके तनाव का कारण बन सकती है। कम समय के लिये होने वाला तनाव ज्यादा चिंताजनक नहीं है, लेकिन लंबे समय तक तनावग्रस्त होना शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य, दोनों के लिए हानिकारक है। पारिवारिक कलह, काम का बोझ, व्यापार में घाटा, नौकरी छूट जाना, किसी प्रिय व्यक्ति की मौत हो जाना इत्यादि तनाव के कारण बनते हैं। समय रहते अगर तनाव को नियंत्रित नहीं किया गया तो परिणाम अच्छे नहीं होते।

1. व्यक्तिगकत समस्याओं की वजह से होने वाला तनाव:
these are the reasons you are living a stressful life आपको अगर कोई बात परेशान कर रही है तो वह आपके दिमाग में घर कर जाती है जिससे आपके दिमाग पर ज़ोर पड़ता है। ऐसे में किसी आम समस्या के कारण ही आप तनाव का शिकार हो जाते हैं। इनमें निम्नलिखित व्यक्तिगत समस्याएं शामिल हैं। [ये भी पढ़ें: वक्त से पहले बूढ़ा बना सकता है अत्यधिक तनाव]

स्वास्थ्य: स्वास्थ्य को लेकर हम सब चिंतित होते है, खासतौर पर तब जब कोई लम्बी बीमारी हो जैसे दिल की बीमारी, मधुमेह, या अर्थराइटिस।

भावनात्मक कारणों से: भावनात्मक समस्या जैसे अत्यधिक गुस्सा आना, कम आत्मसम्मान, किसी तरह की ग्लानि, असंतोष का भाव वो भावनात्मक समस्याएं हैं जो आपको तनाव की ओर ले जा सकती हैं।

जीवन में बड़े बदलाव: जीवन में बड़े बदलाव जैसे माता-पिता या किसी करीबी इंसान की मौत, शादी करना, या किसी नए शहर में शिफ्ट होना आदि के कारण भी तनाव हो सकता है।

परिवार में तनाव: परिवार में किसी बच्चें, किशोर या किसी सदस्य का तनाव में होना या किसी बुजुर्ग का होना जिसे देखभाल की जरुरत है। इस तरह के कारणों से भी तनाव हो सकता है। मूल्यों और विश्वास में मतभेद होना, जैसे कि आप पारिवारिक लाइफ को महत्व देने वाले इंसानों में से एक हैं लेकिन आप किन्हीं कारणों से अपने परिवार के साथ पर्याप्त समय नहीं बिता पा रहे हैं।

2. सामाजिक समस्याओं से होने वाला तनाव:

आपके आस-पास का वातावरण: अधिक भीड़-भाड़ वाले इलाके में रहना, या ऐसी जगहें जहां प्रदूषण, अव्यवस्था ज्यादा है वहां व्यक्ति क्रोनिक तनाव(लम्बे समय से तनावग्रस्त रहने की स्थिति) की समस्या उत्पन्न हो सकती है।

आपकी सामाजिक स्थिति: अपने खर्चों को उठाने के लिये पर्याप्त पैसे ना होना, अकेला महसूस करना, नस्ल या जाति के आधार पर भेदभाव का सामना करना। इस तरह की स्थिति भी तनाव का मुख्य कारण बनती हैं।

आपकी नौकरी: अपनी नौकरी से खुश ना होना, या वर्कप्लेस पर डिमांड ज्यादा होना भी क्रोनिक तनाव को बुलावा दे सकते हैं।

3. पोस्ट ट्रोमैटिक स्ट्रेस (Post-traumatic stress): अगर आप जीवन में किसी अप्रिय और बुरी घटना का सामना कर चुके हैं तो आपको उसके कारण तनाव हो सकता है जिसके निकलने के लिये आपको मदद और सही देखभाल की जरुरत होगी। इन घटनाओं में बलात्कार, प्राकृतिक आपदा, या युद्ध शामिल हो सकते हैं। इन घटनाओं की वजह से घातक तनाव हो सकता है इसलिये इस स्थिति आपका अपने डॉक्टर से संपर्क करना बेहद जरुरी हो जाता है। [ये भी पढ़ें: तनाव को कम करने के लिए असरदार हैं ये तकनीक]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "