60 सेकेंड में चिंता को दूर करने के आसान उपाय

Read in English
how to reduce anxiety within 60 seconds

जिंदगी में अलग-अलग परिस्थियों का सामना करते हुए और इनसे निपटते हुए आपको तनाव होना लाजमी है। हालांकि छोटी-छोटी चीजें या आसान फैसले भी आपके दिमाग को चिंता से भर देते हैं तो इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। ऐसी स्थितियों पर आपको ध्यान देने की जरुरत है। आज के समय में एंग्जायटी डिसऑर्डर अधिकतर लोगों की जिंदगी का हिस्सा होता जा रहा है। ऐसा इसलिए भी हो सकता है क्योंकि आप किसी विषय को जरुरत से ज्यादा तवज्जों दे देते हैं। अगर आपको अचानक बहुत पसीना आ रहा है, दिल की धड़कन तेज हो गई और आप सांस लेने में परेशानी महसूस कर रहे हैं तो यह एंग्जायटी अटैक के संकेत हो सकते हैं। ऐसे में आप चिंता दूर करके खुद को 60 सेकेंड में सामान्य कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपको शारीरिक तनाव है]

गहरी सांस लें
एंग्जायटी अटैक या बहुत अधिक चिंता होने के दौरान आपकी सांस कम हो जाती हैं जिसके कारण सांस लेने में तकलीफ, चक्कर आना, मतली आदि परेशानियां हो सकती है। ऐसे में व्यक्ति गहरी सांस लेकर 60 सेकेंड में इन लक्षणों को कम कर सकता है। इससे शरीर में ऑक्सीजन का प्रसार बेहतर होता है।

ठंडे पानी से नहाएं
अगर आपका दिमाग बहुत अधिक चिंता महसूस कर रहा है तो ठंडे पानी से नहाना आपको इससे बाहर निकालने में मदद करता है। ठंडे पानी से नहाने से आपकी रक्त धमनियों पर दबाव पड़ता है जिससे रक् का संचार बढ़ता है और आपके ब्रेन तक रक्त और ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में पहुंचते हैं। इससे आपका ब्रेन फंक्शन बेहतर होता है और चिंता कम होती है। [ये भी पढ़ें: तनावपूर्ण स्थिति का सामना करने के लिए खुद को कैसे तैयार करें]

हर्बल टी का सेवन
हर्बल टी आपको रिलैक्स करने में मदद करती है। विशेषज्ञ हर रोज शाम को एक कप हर्बल टी का सेवन करने की सलाह देते हैं। हर्बल टी में पाया जाने वाला यौगिक एल-थियानिन दिमाग को शांत करता है और चिंता को कम करने में मदद करता है। आप कैमोमाइल टी का सेवन कर सकते हैं।

अरोमाथेरेपी
दिमाग को शांत करने और चिंता को दूर करने के लिए अरोमाथेरेपी भी एक बेहतर विकल्प है। इस थेरेपी में आपको मसाज देने के साथ एसेंशियल ऑयल, सेन्टेड कैंडल्स आदि का उपयोग किया जाता है जिससे आपका दिमाग तो शांत होता ही है साथ ही शरीर में रक्त संचार बढ़ता है। इससे आप चिंता से दूर हो पाते हैं। [ये भी पढ़ें: चिंता से बाहर आने के लिए अपने बच्चे की कैसे मदद करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "