Box Breathing: तनाव को कम करने के लिए बॉक्स ब्रीदिंग कैसे करें

What is box breathing

तनाव को कम करने के लिए आप बॉक्स ब्रीदिंग तकनीक आजमा सकते हैं।

Box Breathing: किसी भी खतरे की स्थिति में हमारा शरीर उस स्थिति के खिलाफ प्रतिक्रिया देते हैं। इस दौरान आप तनाव का सामना करते हैं। तनाव कभी कभी सकारात्मक होता है लेकिन इसके अधिक हो जाने पर आपका शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होता है साथ ही आपका व्यवहार भी। हालांकि इसको कम करने के लिए आप बॉक्स ब्रीदिंग तकनीक आजमा सकते हैं। बॉक्स ब्रीदिंग, ब्रीदिंग की ही एक तकनीक है जो कि एक स्ट्रेस मैनेजमेंट एक्सरसाइज के रुप में कार्य करती है। इसका नाम थोड़ा कठिन है लेकिन इसका अभ्यास करना काफी आसान है। यह ना केवल तनाव को कम करने में मदद करती है बल्कि आपके बेहतर फोकस करने में भी मदद करती है। आइए जानते हैं बॉक्स ब्रीदिंग कैसे करें और इसके क्या फायदे हैं।[ये भी पढ़ें: मेडिटेशन के दौरान गहरी सांस लेना क्यों है लाभकारी]

Box Breathing: बॉक्स ब्रीदिंग करने का तरीका और इसके फायदे

  • बॉक्स ब्रीदिंग क्या है
  • बॉक्स ब्रीदिंग कैसे करें
  • बॉक्स ब्रीदिंग करने के फायदे

बॉक्स ब्रीदिंग क्या है
बॉक्स श्वास एक तकनीक है जिसके दौरान आप गहरी सांस लेने का अभ्यास करते हैं। यह तनाव से राहत दिलाने के लिए प्रभावी है और साथ ही एकाग्रता को बढ़की है। इसे फॉर स्क्वायर ब्रीदिंग भी कहा जाता है। यह तकनीक हर किसी के लिए फायदेमंद हो सकती है, खासतौर पर उनके लिए जो ध्यान करते हैं।

बॉक्स ब्रीदिंग कैसे करें

how to do box breathing
बॉक्स ब्रीदिंग करने से कोर्टिसोल का स्तर कम होता है।

स्टेप-1: एक कंफर्टेबल कुर्सी पर बैठ जाएं जिस पर आपकी कमर को सपोर्ट मिल सके।
स्टेप-2: आँखें बंद करें और अपनी नाक से धीरे-धीरे सांस लें साथ ही चार तक गिनें। अपने फेफड़ों में हवा का जाते हुए महसूस करें।
स्टेप-3: चार गिनती तक सांस को रोक कर रखें।
स्टेप-4: इसके बाद धीरे-धीरे सांस छोड़ना शुरु करें और चार गिनने तक सांस छोड़ें।
स्टेप-5: इस तरीके को पांच मिनट तक दोहराएं।

बॉक्स ब्रीदिंग करने के फायदे

  • गहरी सांस लेने से ऑटोनॉमिक नर्वस सिस्टम को शांत और नियत्रित करने में मदद मिलती है।
  • बॉक्स ब्रीदिंग करने से कोर्टिसोल का स्तर कम होता है जिससे आपका तनाव दूर होता है और आप रिलैक्स रहते हैं।
  • बॉक्स ब्रीदिंग फोकस को बढ़ाने में मदद करती है। इससे आपकी एकाग्रता बढ़ती है।
  • नियमित बॉक्स ब्रीदिंग करने से मानसिक स्पष्टता और सकारात्मकता को बढ़ाने में मदद मिलती है। साथ ही लंबे समय तक इसका अभ्यास करने से आप डिप्रेशन और एंग्जायटी जैसे मानसिक विकारों से दूर रहते हैं।

[जरुर पढ़ें: तनाव दूर करने के लिए मेडिटेशन कैसे करें]

ये कुछ तरीके हैं जिनकी मदद से आप अपनी दिनचर्या में बॉक्स ब्रीदिंग को शामिल कर सकते हैं और इसके कई फायदे पा सकते हैं। इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "